रायपुर। छत्तीसगढ़ में बालोद जिले में स्थित पाटेश्वरधाम के विरुद्ध वन विभाग की ओर से दिए गए नोटिस के खिलाफ सकल हिंदू समाज अब खुलकर सामने आ गया है। उक्त नोटिस के खिलाफ पूरे राज्य में चौतरफा विरोध प्रांरभ हो गया है। इसे लेकर राजनांदगांव जिले के डोंगरगांव अंचल के सकल हिन्दू समाज ने सोमवार को एक बैठक कर इस कार्यवाही की तीव्र भर्त्सना की और नगर में रैली निकालकर एसडीएम कार्यालय पहुंचे। यहां पर उन्होंने राज्यपाल के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर उक्त नोटिस को शीघ्र निरस्त करने की मांग की है।

इस दौरान बार-बार सकल हिंदूर समाज के लोगों ने राज्य सरकार के मुखिया, वन विभाग के मंत्री तथा डीएफओ के विद्यद्ध जमकर नारेबाजी की गई। इससे पूर्व स्थानीय हनुमान मंदिर में नगर सहित अंचल के अनेक प्रबुद्धजन, युवा और जनप्रतिनिधियों ने सकल हिन्दू समाज के बैनर तले बैठक आयोजित कर बालोद डीएफओ द्वारा पिछले कई दशकों से जामड़ीपाट में मंदिर निर्माण के साथ विविध गतिविधियों का संचालन कर रहे संत बालकदास जी को जगह खाली करने का नोटिस देने तथा दुर्व्यवहार किये जाने की तीव्र शब्दों में भर्त्सना की।

इसके अलावा बैठक में नगर सहित आसपास के गांवों में पिछले दो वर्षों में धर्मांतरण के कार्यो में आई तेजी तथा लव जिहाद के बढ़ते मामलों पर भी गहन चिंता व्यक्त की गई। साथ ही ऐसे मामलों में हिन्दुओं के बीच जनजागृति लाने के लिए सार्थक प्रयास किए जाने पर भी बल दिया गया। बैठक के बीच में वीडियो कलिंग के माध्यम से उपस्थित कार्यकर्ताओं को संत बालकदास ने संबोधित किया और हिन्दू हित की इस लड़ाई में सबसे तन, मन, धन से सहयोग मांगा। पश्चात्‌ भगवा ध्वज के साथ सभी रैली के रूप में एसडीएम कार्यालय पहुंचे। वहां पर एसडीएम की अनुपस्थिति में डोंगरगांव तहसीलदार शिव कुमार कंवर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस