रायपुर। कोरोना की दूसरी लहर मेें संक्रमित मरीजों के लिए ऑक्सीजन की कमी प्राणघातक साबित हो रही है। इस स्थिति को देखते हुए द इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ आर्किटेक्ट्स छत्तीसगढ़ चैप्टर की ओर से कोविड ग्रस्त मरीजों को ऑक्सीजन सिलिंडर एवं कॉन्सेंट्रेटर मशीन लगातार उपलब्ध कराई जा रही हैं। वहीं, जरुरत पड़ने पर संस्था के सदस्यों द्वारा दवाइयां एवं ब्लड प्लाज्मा की पूर्ति भी की जा रही है। इसके अलावा आपात स्थिति में कई परिवारों के लिए हॉस्पिटल में बेड की व्यवस्था कराने में सहयोग दिया जा रहा है।

इस संक्रमण काल में आर्किटेक्ट्स की छत्तीसगढ़ इकाई के विभिन्न सदस्यों द्वारा सहयोग राशि एकत्रित की गई। इस सहयोग राशि से बिलासपुर में 13 नग जंबो ऑक्सीजन सिलिंडर, दुर्ग-भिलाई, राजनांदगाव में आठ नग जंबो ऑक्सीजन सिलिंडर, रायपुर में 14 नग जंबो ऑक्सीजन सिलेंडर और दो नग ऑक्सीजन कान्सेंट्रेटर मशीन आम जनता के लिए उपलब्ध कराई गई है।

संस्था के सचिव वास्तुविद सौरभ राहटगांवकर ने बताया की इसके पूर्व में जब कोविड की प्रथम लहर थी, तब भी संस्था द्वारा मुख्यमंत्री राहत कोष में एक लाख की राशि दी गई थी। रायपुर सेंटर से वास्तुविद रवि चव्हाण के दिशा-निर्देश में युवा वास्तुविदों सिद्धांत शर्मा, वास्तु पारख, मीमांसा दीवान, शशाक निगम, स्वप्निल जग्गी द्वारा कार्य किया जा रहा है।

बिलासपुर एवं निकट एरिया में वास्तुविद देवाशीष घटक के नेतृत्व में युवा वास्तुविदों सुमित अग्रवाल, विवेक यादव, मोहनीश आनंद, नीना असीम की टीम कार्य कर रही है। भिलाई-दुर्ग, राजनांदगाव में वास्तुविद आरके पटेल के नेतृत्व में नवीन साहू, विजय हिरवानी, अविनाश दिल्लीवार की टीम कार्य को अंजाम दे रही है।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags