श्रवण शर्मा। रायपुर नईदुनिया

रंगमंच के क्षेत्र में छत्तीसगढ़ के अनेक कलाकारों ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्धि हासिल की है। महिला कलाकारों में लाखे नगर रायपुर निवासी ममता अहार छत्तीसगढ़ की एकमात्र कलाकार हैं, जिन्होंने 30 देशों में राधा और द्रोपदी के जीवन चरित्र को एकल नाटक के माध्यम से प्रस्तुत कर ख्याति पाई। जिस देश में भी उन्होंने एकल नाटक की प्रस्तुति दी, वहां छत्तीसगढ़ की संस्कृति की चमक बिखरी और उन्हें कई अवार्ड से सम्मानित किया गया।

बच्चों को अभिनय के गुर निश्शुल्क सिखा रहीं

शिक्षक की नौकरी करते हुए उन्होंने देखा कि झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले और सरकारी स्कूलों के कई बच्चे प्रतिभाशाली हैं, जिन्हें अभिनय सिखाया जाए तो वे अपना भविष्य संवार सकते हैं। इसी उद्देश्य से रविवार अथवा अवकाश वाले दिन वह बच्चों को अभिनय के गुर सिखाने लगीं। साथ ही झुग्गियों में रहने वाले बच्चों को लेकर नाटकों का निर्देशन किया। बच्चों ने संस्कृति विभाग के मंचों के अलावा कई सार्वजनिक स्थलों पर प्रस्तुति देकर वाहवाही लूटी।

मीरा-द्रोपदी ने दिलाई पहचान

आकाशवाणी के लिए नाट्य लेखन की जिम्मेदारी के साथ दूरर्दशन से प्रसारित नाटक पर्रा भांवर, बबलू का बर्थ डे, अधर्मी और रंग झांझर की प्रस्तुति वह दे चुकी हैं। द्रौपदी और राधा की एकल नाट्य प्रस्तुति ने उन्हें पहचान दिलाई। वह देश के 20 राज्यों के अलावा नेपाल, आस्ट्रेलिया, सिंगापुर, हंगरी, अमेरिका, श्रीलंका, मिश्र सहित 30 देशों में एकल नाट्य का प्रदर्शन कर चुकी हैं।

नाटकों में दिया शोषण से बचने का संदेश

ममता ऐसी कलाकार हैं जिन्होंने छत्तीसगढ़ी संस्कृति में रची बसी महिलाओं के जीवन की पीड़ा को साकार किया। तिरिया जनम झन दे नाटक के जरिए नारी सशक्तीकरण के प्रति जागरूक करने में अहम भूमिका निभाई। महिलाओं के शोषण को कैसे रोका जाए, महिलाएं किस तरह शिक्षा ग्रहण करके परिवार की आर्थिक स्थिति सुधारें, इस दिशा में भी प्रेरित किया।

बच्चों पर सालाना 50 हजार रुपये खर्च

ममता अहार ने श्रीया आर्ट का गठन किया है, जिसके माध्यम से ग्रीष्मकालीन अवकाश में बच्चों को निश्शुल्क प्रशिक्षण देती हैं। कोरोना काल में भी उन्होंने बच्चों को मास्क लगाने, शारीरिक दूरी बनाए रखने के लिए गीत, नाटक, अभिनय के माध्यम से जागरूक करने में अहम भूमिका निभाई। बच्चों को प्रशिक्षण देने में हर साल लगभग 50 हजार रुपये अपनी जेब से खर्च करती हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस