रायपुर। Crime News: गुढ़ियारी इलाके में एक युवक के नाम पर तीन लोगों द्वारा एसबीआई से 1.55 लाख रुपये लोन लेकर किश्त नहीं चुकाई और बैंक द्वारा नोटिस जारी होने से परेशान युवक ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली थी। करीब नौ महीने की जांच के बाद पुलिस ने बैंक से लोन लेने लेकर किश्त नहीं चुकाने वाले तीन आरोपितों को गुरुवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

गुढ़ियारी पुलिस थाना प्रभारी रवि तिवारी ने बताया कि साल 2020 को प्रेमनगर निवासी डागेश्वर पाल पिता बबला पाल (27) के नाम पर स्टेट बैंक गुढ़ियारी शाखा से आरोपित अशोक मेश्राम ने 90 हजार रुपये, राहुल गेडाम ने चालीस हजार रुपये और संगरत्न डोंगरे ने 25 हजार रुपये का लोन ले लिया था। आरोपितों ने डागेश्वर को आश्वासन दिया था कि लोन की किश्त वे चुका देंगे।

मगर, आरोपितों ने लोन की पूरी रकम खर्च कर दी और किश्त भी नहीं चुकाई। इधर, बैंक प्रबंधन ने लोन की किश्त की वसूली के लिए डागेश्वर पाल को नोटिस जारी किया। तब डागेश्वर पाल ने आरोपितों से पैसा लौटाने को कहा, लेकिन उन्होंने लौटाने से साफ इंकार कर दिया। आर्थिक तंगी और बैंक की वसूली से परेशान होकर 18 अगस्त 2020 को डागेश्वर पाल ने जहर सेवन कर खुदकुशी कर ली थी।

उसने एक सुसाइड नोट भी लिखा था, जिसमें तीनों आरोपितों द्वारा उसके नाम से बैंक से लोन लेकर नहीं चुकाने और बैंक द्वारा किश्त के लिए उसे नोटिस देने से परेशान होकर खुदकुशी करने का उल्लेख किया गया था। पुलिस ने जांच उपरांत आखिरकार गुरुवार को मामले में तीनों आरोपितों के खिलाफ धारा 306, 34 के तहत अपराध कायम करने के साथ ही गिरफ्तारी की कार्रवाई की।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags