रायपुर। केंद्र सरकार के कश्मीर मामले में लिए गए ऐतिहासिक फैसले के बाद छत्तीसगढ़ से भी पाकिस्तान में सब्जियों की सप्लाई बंद हो गई है। यहां से जाने वाले टमाटर का उपयोग अब यहीं के बाजारों में हो रहा है। बताया जा रहा है कि इसकी वजह से टमाटर की कीमत में ज्यादा तेजी नहीं आई है। इन दिनों बारिश के चलते वैसे ही टमाटर की स्थानीय और बाहरी आवक काफी कम हो गई है। थोक में टमाटर 950 रुपये कैरेट और चिल्हर में 35 से 40 रुपये किलो तक बिक रहा है।

मंगलवार को शास्त्री बाजार, आमापारा, गोलबाजार सहित दूसरे बाजार में टमाटर के साथ दूसरी सब्जियों की भी आवक कम रही। इसका असर कीमतों पर पड़ा। गोभी 60-70 रुपये किलो, परवल 70 रुपये किलो, लौकी 20 रुपये किलो, पत्ता गोभी 40 रुपये किलो, भिंडी 40 रुपये किलो बिकी। अदरक 130 रुपये किलो तक बिक रहा है। सब्जी कारोबारियों का कहना है कि इन दिनों सब्जियों की आवक काफी कम हो गई है। इसका असर दाम में तेजी के रूप में दिख रहा है।

Sukma Encounter : भाई पुलिस में और बहन नक्सली, मुठभेड़ में जब आमने-सामने आ गए

कश्मीर से सेव, केसर, आलू-बुखारा भी नहीं आ पा रहा-

फल कारोबारियों का कहना है कि बीते हफ्ते भर से कश्मीर से सेव, केसर, आलू-बुखारा की सप्लाई भी नहीं हो रही है। हालांकि अब वहां हालात सुधरने की बात कही जा रही है। लेकिन सप्लाई अभी तक शुरू नहीं हो पाई है। फल कारोबारियों द्वारा इसके चलते स्टोर का माल ही उपयोग लाया जा रहा है। कारोबारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में स्थिति सामान्य होने के बाद फिर से सप्लाई शुरू हो जाएगी।

जमीन विवाद पर छोटे भाई की तलवार मारकर हत्या

किशोर का अपहरण कर महिला बनाती रही संबंध, यह हुआ अंजाम

रिश्‍ते शर्मसार : जमीन के लिए पिता के किए टुकड़े, एक बेटा गिरफ्तार, दूसरा फरार