रायपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। Tomato Price Rise: महंगाई की मार से झुलस रहे आम आदमी के लिए अब चटनी खाना भी महंगा हो गया है। टमाटर इन दिनों चिल्लर में 60 से 80 रुपये किलो तक बिक रहा है। हरी मिर्च का दाम और बढ़कर 70 रुपये किलो पर पहुंच गया है। पखवाड़े भर पहले टमाटर 20 से 35 रुपये किलो और मिर्च 25 से 30 रुपये किलो तक बिक रही थी। सब्जी कारोबारियों का कहना है कि टमाटर की बाहरी आवक कम होने के साथ स्थानीय आवक बिल्कुल नहीं है। इसके चलते ही टमाटर इतना महंगा हुआ है।

दूसरी ओर सस्ती होने के चलते रसोई की कमान अब भिंडी और लौकी संभालने लगी हैं। दस दिनों पहले 40 रुपये किलो में बिकने वाली भिंडी इन दिनों 10 से 15 रुपये किलो बिक रही है। सब्जी कारोबारियों का कहना है कि भिंडी की स्थानीय पैदावार काफी ज्यादा हुई है, जिसका असर कीमतों में कमी के रूप में देखा जा रहा है।

इसी तरह 15 रुपये किलो तक बिकने वाली लौकी अभी 10 रुपये किलो में बिक रही है। टमाटर को छोड़ अन्य सब्जियों के दाम थोड़े सस्ते हुए है। थोक सब्जी व्यावसायी संघ के अध्यक्ष टी श्रीनिवास रेड्डी का कहना है कि टमाटर की स्थानीय आवक नहीं है और बाहरी आवक 70 फीसद घट गई है। भिंडी की स्थानीय पैदावार काफी बढ़ गई है, जिससे सस्ती हुई है।

सब्जियों की कीमत

शनिवार को गोलबाजार, आमापारा, टिकरापारा, संतोषीनगर बाजार में टमाटर 60 से 80 रुपये किलो, पत्ता गोभी 25 रुपये किलो, गोभी 50 रुपये किलो, बैगन 30 रुपये किलो, भिंडी 10 रुपये किलो, लौकी 10 रुपये किलो, हरी मिर्च 70 रुपये किलो तक बिकी।

आलू महंगा, प्याज सस्ता

आलू इन दिनों 25 रुपये किलो और प्याज 15 रुपये किलो है। कारोबारियों का कहना है कि इनकी आवक काफी अच्छी बनी हुई है। आने वाले दिनों में कीमतों में तेजी के आसार नहीं है।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close