रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

10 लाख का लोन दिलाने का झांसा देकर मेडिकल दुकान संचालक से करीब दो लाख रुपये ठगने का मामला सामने आया है। शिकायत पर मुजगहन पुलिस ने अज्ञात ठग के खिलाफ चार सौ बीसी का अपराध कायम कर लिया।

पुलिस के मुताबिक मूलतः गरियाबंद जिले के फिंगेश्वर थानाक्षेत्र के ग्राम परसदा कला निवासी जागेश कुमार साहू (32) वर्तमान में सेक्टर 11/ए कमल विहार डूंडा में रहकर डूंडा मेन रोड पर श्री कृष्णा मेडिकल स्टोर्स का संचालन करते आ रहे हैं। 23 नवंबर को उन्होंने अखबार में गणपति फाइनेंस लिमिटेड का विज्ञापन देखा। लिखा था कि आधार कार्ड एवं मार्कशीट पर 10 लाख रुपये तक लोन 24 घंटे के भीतर मिलेगा। विज्ञापन देखकर दिए गए मोबाइल नंबर 9599406715 पर उन्होंने कॉल किया। कॉल रिसीव करने वाले ने अपना नाम दिलीप साहू बताते हुए जानकारी दी कि यह सरकारी स्कीम है और लोन प्राप्त करने के लिए विभिन्ना शुल्क का भुगतान करना पड़ेगा। ठग के झांसे में आकर जागेश ने एक हफ्ते के भीतर ही एसबीआइ एवं बैंक ऑफ इंडिया के बताए गए विभिन्ना बैंक खातों में नौ किस्तों में कुल 1 लाख 93 हजार 215 रुपये जमा करा दिए।

नौ किस्तों में ऐंठे पैसे

ठगी के शिकार जागेश साहू ने बताया कि शातिर ठग ने लोन दिलाने का झांसा देकर सबसे पहले 42 सौ रुपये प्रोसेसिंग चार्ज, इंश्योरेंस 24 हजार 5 सौ रुपये के अलावा अन्य चार्ज के रूप में 19 हजार 542 रुपये, 32 हजार 973 रुपये, 28 हजार 5 सौ रुपये, 18 हजार 5 सौ रुपये, 12 हजार 5 सौ रुपये, 28 हजार 5 सौ रुपये तथा 24 हजार रुपये जमा करने के बाद बाकायदा ठगों ने उसकी पावती भी भेजी है, लेकिन अब तक उसे लोन की रकम नहीं मिली, तब ठगी का एहसास हुआ।

कई लोगों से ठगी

जागेश के अनुसार दिलीप साहू एवं राजकुमारी नामक युवती ने दिल्ली स्थित गणपति फाइनेंस लिमिटेड के मुख्य दफ्तर में अपने आपको काम करना बताया था। लोन पाने के लालच में जागेश के अलावा काई लोगों से पैसे ठगे गए हैं। शिकायत पर पुलिस ने मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है।