रायपुर। पचपेड़ी नाका रायपुर स्थित राजधानी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में 17 अप्रैल को हुई आगजनी की घटना में अपने जान की बाजी लगाकर मरीजों को बाहर निकालने वाले फायर ब्रिगेड कर्मियों को सामाजिक संस्था वक्ता मंच द्वारा सम्मानित करने का निर्णय लिया है। मंच के अध्यक्ष राजेश पराते ने बताया कि सामान्य स्थिति बहाल होने पर एक कार्यक्रम में कोरोना योद्धा के सम्मान से नवाजा जाएगा।

उल्लेखनीय है कि अस्पताल में आग लगने के बाद मची अफरा-तफरी के माहौल में फायर ब्रिगेड के बहादुर कर्मियों ने आग और कोरोना संक्रमण के दोहरे खतरे को झेलते हुए अंदर से 30 से अधिक मरीजों को सकुशल बाहर निकाला था। हालांकि, उस हादसे में पांच मरीजों की मौत भी हो गई थी। इसमें से एक मरीज की जलने की वजह से और चार की दम घुटने की वजह से जान चली गई थी।

बाकी मरीजों को सकुशल निकालने वाले सभी आठ दमकल कर्मियों को वक्ता मंच सपरिवार आमंत्रित कर अभिनंदित करेगा। बताते चलें कि कोरोना मरीजों को निकालने में सक्रिय भूमिका निभाने वाले चार दमकलकर्मियों ने खुद को फायर स्टेशन में ही क्वारंटाइन कर लिया है।

100 पैकेट सूखा राशन का वितरण

दूसरी ओर लॉकडाउन के दौरान जारी सेवा कार्यों के क्रम में सोमवार को वक्ता मंच द्वारा सुंदर नगर, डगनिया व रायपुरा क्षेत्र में जरूरतमंदों के मध्य 100 पैकेट सूखा राशन का वितरण किया गया। मंच द्वारा दाल, चावल, आलू, प्याज, पोहा, बड़ी, मसालों के पैकेट बनाकर निश्शुल्क वितरण का क्रम जारी है। यह कार्य शुभम साहू, दुष्यंत साहू, खेमराज साहू के मार्गदर्शन में किया।

Posted By: Shashank.bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags