रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

राजधानी में अब घर-घर पेयजलापूर्ति के नल कनेक्शन के साथ वाटर मीटर लगाने की तैयारी जल्द ही शुरू की जाएगी। इसके लिए पूर्व से ही कवायद चल रही है। इसकी रिपोर्ट गुरुवार को मंत्रालय महानदी भवन में परियोजना निर्माण एवं क्रियान्वयन समिति की राज्य स्तरीय बैठक में सौंपी गई। रिपोर्ट मुख्य सचिव आरपी मंडल की अध्यक्षता में नगरीय विकास विभाग की सचिव अलरमेल मंगई डी के समक्ष स्मार्ट सिटी रायपुर के एमडी सौरभ कुमार ने सौंपी। उन्होंने बताया कि इसे मॉडल के रूप में तैयार करने की योजना है, ताकि पेयजल की आपूर्ति के दौरान पानी की बर्बादी न हो। इसके साथ ही उन्होंने सचिव को बताया कि रायपुर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत 190 करोड़ रुपये अभी तक खर्च कर चुके हैं। बताया कि रायपुर में मोतीबाग और गंज मंडी क्षेत्र में उच्च क्षमता की पानी टंकियां बनाई गई हैं। मुख्य सचिव आरपी मंडल ने बिलासपुर स्मार्ट सिटी परियोजना पूरी गुणवत्ता और तकनीकी से करने के निर्देश नगरीय प्रशासन विभाग को दिए। बिलासपुर नगर निगम के आयुक्त ने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के कम्पोनेंट्स के संबंध में प्रजेंटेशन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि बिलासपुर स्मार्ट सिटी के लिए 163 करोड़ 48 लाख रुपये की योजना तैयार की गई है। मुख्य सचिव ने रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के कार्यों की समीक्षा की। इसके साथ ही अधिकारियों को स्ट्रीट लाइट के लिए टाइमर निर्धारित करने के निर्देश दिए हैं। इस मौके पर बिलासपुर स्मार्ट सिटी परियोजना के विविध कम्पोनेंट्स पर विस्तार से विचार-विमर्श किया गया। बैठक में बस्तर में प्रस्तावित बोधघाट बहुउद्देशीय परियोजना के संबंध में चर्चा हुई। इस दौरान अपर मुख्य सचिव वित्त अमिताभ जैन एवं मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू भी शामिल हुए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020