रायपुर। छत्तीसगढ़ में संक्रमण की दर तेजी से कम हो रही है। बीते एक माह की बात करें, तो चार मई को प्रदेश की संक्रमण दर 27.67 फीसद थी, जो अब घटकर 2.9 पर पहुंच गई है। यानी संक्रमण के मामले में कहीं न कहीं हमारी स्थिति देश के छह बड़े राज्यों से बेहतर है।

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, वर्तमान में प्रदेश में 29,378 सक्रिय मरीज हैं। वहीं, धीरे-धीरे संक्रमण की दर कम होते जा रही है। महाराष्ट्र में जिस तरह से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। राज्य को एहतियात बरतने की अभी भी जरूरत है। बता दें महाराष्ट्र में सर्वाधिक 2,07,813 लाख सक्रिय मरीज हैं। पड़ोसी राज्य होने की वजह से महाराष्ट्र आने-जाने वालों की संख्या कम नहीं है।

दूसरी लहर में दुर्ग और रायपुर में मिले ज्यादातर केस महाराष्ट्र से आने वाले या इनमें से किसी के कांट्रेक्ट के आने वाले मरीज सामने आए थे। दुर्ग इसमें सर्वाधिक प्रभावित जिला था। वर्तमान में संभागवार कोरोना की स्थिति पर नजर डालें तो सरगुजा और बिलासपुर सबसे अधिक संक्रमित संभाग है। जबकि दुर्ग संभाग में सबसे कम संक्रमित हैं।

देश में कोरोना के सक्रिय मरीज

राज्य - सक्रिय मरीज

कर्नाटक - 2,86,819

तमिलनाडु - 2,80,426

महाराष्ट्र 2,07,813

आंध्रप्रदेश - 1,38,912

केरला - 1,84,699

ओडिशा - 75,042

पश्चिम बंगाल - 61,780

असम 51,881

तेलंगाना 32,579

छत्तीसगढ़ - 29,378

प्रदेश में सप्ताहभर में घटी संक्रमण की दर

तिथि - जांच - केस - संक्रमण की दर

28 मई - 63,402 - 2840 - 4.4 फीसद

29 मई - 62,345 - 2437 - 3.9 फीसद

30 मई - 43,240 - 1655 - 3.8 फीसद

31 मई - 58,445 - 2163 - 3.7 फीसद

01 जून - 59,989 - 1886 - 3.1 फीसद

02 जून - 55,989 - 1792 - 2.9 फीसद

संभाग वार सक्रिय मरीजों की स्थिति

संभाग - सक्रिय मरीज

सरगुजा - 10,023

बिलासपुर - 8,066

रायपुर - 4,993

बस्तर - 3,495

दुर्ग - 2,801

कोरोना से सर्वाधिक मौत इन जिलों में

जिला - मौत

रायपुर - 3105

दुर्ग - 1771

बिलासपुर - 1192

रायगढ़ - 942

जांजगीर चांपा - 776

कोरबा - 552

राज्य में माहवार संक्रमित और मौत के मामले

माह- कुल नए मरीज- मौत

जनवरी - 25792 - - 330

फरवरी - 7,193 - - 134

मार्च - 36,627 - - 335

अप्रैल - 3,79,513 - - 4411

मई - 2,42,763 - - 4467

जागरूकता और सावधानी बरतनी होगी

कोरोना के मामले कम हुए हैं। फिर भी संक्रमण के मरीज लगातार मिल रहे हैं। ऐसे में लोगों को जागरूकता और सावधानी हर हाल में बरतनी होगी। सभी से अपील है कि बचाव के लिए कोरोना गाइडलाइन का पालन करें। मास्क, सैनिटाइजेशन, शारीरिक दूरी का पालन करें। लक्षण नजर आने पर जांच कराएं और आवश्यक उपचार लें। सभी को वैक्सीनेशन कराएं। तीसरी लहर की आशंकाएं आने वाली है। यदि हम जागरूकता दिखाएं तो कोरोना के संक्रमण फैलने से रोक सकते हैं।

-डॉक्टर सुभाष मिश्रा, नोडल अधिकारी, राज्य कोरोना नियंत्रण अभियान

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local