रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य विभाग द्वारा पूरे प्रदेश में जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा स्वास्थ्य केंद्रों में मनाया गया। इसी कड़ी में शहर की पुरानी बस्ती स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खो-खो पारा में भी जिला स्वास्थ्य समिति व मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा आयोजित किया गया। यहां पर सांस्कृतिक कार्यक्रम के जरिए जनसंख्या स्थिरता का संदेश दिया गया। कला जत्था के कलाकारों ने गीत-संगीत व नाटक के माध्यम से भी लोगों को जागरूक करके परिवार नियोजन के फायदे बताए। जनसंख्या वृद्धि रोकने के उपाय बताकर जनसंख्या स्थिरीकरण के महत्व के बारे में भी बताया।

इस अवसर पर स्टॉल लगाकर लोगों को जनसंख्या नियंत्रण के उपाय बताए। साथ ही लोगों को संदेश दिया कि अगर बढ़ती जनसंख्या पर लगाम नहीं लगाई गई तो रोटी, कपड़ा, मकान के साथ जल, जमीन और पानी के लिए तरसना पड़ सकता है। नर्सिंग छात्रों द्वारा जागरूकता के लिए पोस्टर व निबंध प्रतियोगिता आयोजित की गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महापौर प्रमोद दुबे ने कहा कि जिस देश, प्रदेश, शहर की जनसंख्या जितनी बढ़ेगी, उतनी ही समस्याओं का सामना जनता को करना पड़ेगा। छोटा परिवार, सुखी परिवार सिर्फ नारा नहीं है, बल्कि इसे अपना कर जीवन व परिवार को होने वाले आर्थिक संकट से मुक्ति पाई जा सकती है। आज इंटरनेट व स्मार्ट फोन के जमाने में हमें लोगों को फेसबुक, ह्वाट्सएप के माध्यम से जागरूक करने की आवश्यकता है। कार्यक्रम में सीएमएचओ डॉ. केआर सोनवानी, डॉ. जुगलकिशोर राय समेत अन्य अधिकारी-कर्मचारी शामिल हुए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना