रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बूढ़ा पारा धरना स्थल पर सप्ताहभर से अधिक समय से विभिन्न संगठनों का धरना प्रदर्शन जारी है। यहां रोज हजारों की संख्या में लोग उमड़ रहे हैं। खास बात यह है कि यहां हमेशा मेला जैसे नजारा देखने को मिलता है। यहीं कारण बूढ़ा पारा के सड़क पर दुकानें लगाने वालों की इस समय कमाई बढ़ जाती है। बाहर से आए लोग यहां फुटपाथ पर बिक रहे सामानों की खूब खरीदारी करते हैं। यूं कहे कि जब धरना स्थल में किसी संगठन का आंदोलन शुरू होता है तो इनकी दीवाली होती है।

बूढ़ा पारा के धरना स्थल पर सुबह से देर रात तक फल-फूल, जूते, कपड़े आदि दुकानें नजर आ जाती हैं। प्रदर्शन में शामिल होने आए लोग इन सामानों की खूब खरीदारी कर रहे है। सड़क पर दुकान लगाने एक व्यापारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि अभी यहां होने वाले धरना-प्रदर्शन व आंदोलन से सामानों की बिक्री बढ़ गई है। पहले दिनभर में दो हजार की बिक्री होती थी, लेकिन अब आठ से 10 हजार रुपये रोज की आय हो रही है।

सुबह आ जाते है कि ठेले-गुमटी वाले

प्रदर्शन को देखते हुए ठेले-गुमटी वाले अपने के साथ सुबह आठ बजे के पहले दाखिल हो जाते हैं। कारण यह है कि जैसे ही घड़ी के काटे आगे बढ़ते है वैसे ही पुलिस प्रशासन गलियों और मेन रोड की आवाजही बंद करना शुरू कर देते है। इन सबको को देखते हुए ये लोग सुबह से दाखिल होकर अपना दुकान लगाने शुरू कर देते हैं। दुकान लगाने वाले सपरिवार भी पहुंच रहे हैं और बच्चे, युवा घूम-घूम सामान बेचते नजर आ रहे हैं।

ग्रामीण कपड़े से लेकर सजावटी पर ज्यादा हो रहे आकर्षित

फुटपाथ पर सामान बेच रहे दुकानदारों ने बताया कि ध्धरना प्रदर्शन और आंदोलन में शमिल होने प्रदेशभर से लोग यहां पहुंचे हैं, ऐसे में उन्हें कपड़े और घ्घर में सजावटी सामानों को देखकर आकर्षि हो रहे हैं और इनकी खरीदारी कर रहे हैं।

Posted By: Ravindra Thengdi

NaiDunia Local
NaiDunia Local