रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। Ganesh Immersion: रायपुर के महादेव घाट में गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान लापरवाही बरतने का मामला प्रकाश में आया था। गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान जोन क्रमांक एक के कमिश्नर नेतराम चंद्राकर को इसका दोषी पाया गया है। इसलिए निगम ने उनको पद से हटाकर निगम मुख्यालय में अटैच कर दिया गया है। वहीं, कृष्णा खटिक को जोन क्रमांक एक की कमिश्नर बनाया है। गणेश प्रतिमा विसर्जन में लापरवाही को लेकर रायपुर महापौर एजाज ढेबर ने कमेटी गठित की थी। कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद निगम ने यह कार्रवाई की है। निगम ने इस मामले में घटना दिनांक को ही तीन कर्मचारियों के ऊपर कार्रवाई करते हुए उनको कार्यमुक्त कर दिया था।

ज्ञात हो कि 20 सितंबर 2021 को एक इंटरनेट मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें महादेव घाट स्थित अस्थाई विसर्जन कुंड में गणेश प्रतिमा के विसर्जन के दौरान लापरवाही बरती जा रही थी। निगम के कर्मचारियों द्वारा एक ट्रक में भी प्रतिमाएं लाई गईं थीं, जिन्हें अस्थायी कुंड में तैनात कर्मचारी ट्रक के ऊपर से सीधे कुंड में फेंक रहे थे।

इंटरनेट मीडिया पर वीडियो वायरल होते ही भाजपा पार्षदों के साथ आम जनता भी विरोध में उतर आई। लोग विसर्जन कुंड पहुंच गये थे। घटना के बाद महापौर भी मौके पर पहुंचकर जिम्मेदारों को खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। उसके बाद निगम ने अपर कलेक्टर के अंतर्गत एक जांच टीम गठित किया था। जांच टीम की रिपोर्ट गुरुवार को आ गई है। रिपोर्ट आने के बाद जिम्मेदार अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

Posted By: Shashank.bajpai

NaiDunia Local
NaiDunia Local