राजनांदगांव(नईदुनिया प्रतिनिधि)। डोंगरगढ़ पुलिस ने अपहरण कर नाबालिग से दुष्कर्म करने वाले आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं अपहृत बच्ची को उरला ब्लाक 61 बांबे अटल आवास दुर्ग से बरामद किया है। पुलिस ने बताया कि घटना बीते 17 जनवरी की है, जब आरोपित डोंगरगढ़ बंगाली पारा वार्ड 21 निवासी गोविंदा उर्फ मोनू मेश्राम ने नाबालिग को अपने सामने साथ ले गया था।

स्वजन दो-तीन दिनों तक बच्ची की तलाश में लगे रहे। जब कहीं से कुछ पता नहीं चला तक परिवार वालों ने संदेह जताकर आरोपित के खिलाफ डोंगरगढ़ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। स्वजनों की शिकायत के बाद पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया और सायबर की मदद से आरोपित की पता-तलाश शुरू की। पुलिस की टीम डोंगरगढ़ एरिया के साथ ही राजनांदगांव, दुर्ग, भिलाई व रायपुर सहित महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के सरहदी क्षेत्रों में भी रवाना हुई। इन क्षेत्रों में पुलिस की टीम लगातार आरोपित की तलाश में थी। इस बीच पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपित गोविंदा नाबालिग को अपने साथ भगाकर दुर्ग उरला की ओर ले गया है। तत्काल पुलिस की टीम उरला दुर्ग पहुंची। जहां पुलिस की टीम ने उरला ब्लाक नंबर 61 से अपहृत बच्ची को बरामद किया। पूछताछ में पीड़िता ने बताया कि आरोपित गोविंदा उसे बहला-फुसलाकर अपने साथ लेकर आए और यहां उसके साथ शारीरिक संबंध भी बनाया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित गोविंदा को हिरासत में लेकर राजनांदगांव लाए। यहां न्यायालय से उसे जेल भेज दिए है।

घुमका क्षेत्र में सट्टा-पट्टी को लेकर ग्रामीणों ने की शिकायत

घुमका-पदुमतरा क्षेत्र में सट्टा-पट्टी को लेकर ग्रामीणों ने पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ने शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है। ग्रामीणों की शिकायत है कि राजनीति से जुड़ा व्यक्ति गांव में नेतागिरी का रौब दिखाकर सट्टे का खाईवाली कर रहा है। इस अवैध कारोबार के चलते गांव का माहौल खराब हो रहा है। पहले भी इस तरह की शिकायत के बाद भी मामले में किसी तरह की कार्रवाई नहीं हुई है। अब इस मामले में ग्रामीणों ने पुलिस अधीक्षक से शिकायत कर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है, ताकि गांव के बिगड़ते माहौल को रोका जा सकें। गांव में सट्टा-पट्टी के चलते युवा वर्ग इसकी चपेट में आ रहे हैं। घुमका क्षेत्र के अलावा ग्राम पदुमतरा, खपरी, कलडबरी, भरदाकला, चंवरढाल, बासुला, महरूम, डुमरडीह सहित आसपास के दर्जनभर से अधिक गांवों में सट्टे का अवैध कारोबार चल रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि राजनीतिक क्षेत्र से जुड़े व्यक्ति के अवैध कार्य में होने से गांव में दिक्कत बढ़ गई है। पूर्व में कई बार इसका नाम सामने आ चुका है। उक्त व्यक्ति पहले भी जनपद में भी खाईवाली का प्रयास किया था। उसका जमकर विरोध हुआ और उस पर रोक लगा दी गई थी। वर्तमान में ग्रामीण क्षेत्रों में सट्टे का अवैध कारोबार से यही व्यक्ति कर रहा है। ग्रामीणों ने पुलिस अधिकारियों से इसकी शिकायत कर जांच और कार्रवाई की मांग की है, ताकि अंचल के गांवों में सट्टा के इस अवैध कारोबार पर रोक लग सके।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local