राजनांदगांव(नईदुनिया प्रतिनिधि)। आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों व गर्भवती महिलाओं को जल्द पोषण आहार मिलने लगेगा। आंगनबाड़ी कार्यकता व सहायिकाएं पोषण आहार का वितरण करेंगी। बता दें कि जिले में डेढ़ माह से पोषण आहार वितरण पर ब्रेक लगा हुआ है। परियोजना कार्यालयों में पोषण आहार डंप रखा है।

लेकिन आंगनबाड़ी केंद्रों तक पोषण आहार नहीं पहुंच पाया है। इसकी मुख्य वजह महिला समूह से बीज निगम का अब तक अनुबंध नहीं होना है। इधर, संचालनालय ने रेडी-टू-ईट वितरण करने का आदेश दिया गया है। जिसके बाद महिला एवं बाल विकास विभाग ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं के जरिए आंगनबाड़ी केंद्र तक पोषण आहार पहुंचाने का निर्णय लिया है। ताकि समय पर पोषण आहार का वितरण शुरू हो सकें। नईदुनिया ने 22 मई के अंक में पोषण आहार बंद, लड़खड़ाने लगा सुपोषण आहार शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। जिसके बाद विभाग ने इस ओर गंभीरता दिखाई।

अनुबंध में फंसा पेंचः रेडी-टू-ईट वितरण करने के लिए समूहों और बीज निगम के बीच अनुबंध नहीं हुआ है। जिसके चलते समूह आंगनबाड़ी तक पोषण आहार को नहीं पहुंचा पा रहे हैं। समूह की महिलाओं का कहना है कि बीज निगम अनुबंध के लिए कोई पहल नहीं कर रहीहै। समूह की महिलाओं ने बताया कि महिलाएं एवं बाल विकास विभाग मंत्री द्वारा 15 रुपये प्रति किलोग्राम परिवहन शुल्क देने की बात कही गई थी। लेकिन बीज निगम द्वारा अनुबंध के लिए कोई पहल नहीं की जा रही है। जिसके चलते पेंच फंसा हुआ है।

भत्ता के साथ मिलेगी टीए-डीएः जिले में करीब तीन हजार आंगनबाड़ी केंद्र हैं, जहां छह हजार आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाएं कार्यरत हैं। पोषण आहार का वितरण समय पर हो इसके लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को पोषण आहार केंद्र तक ले जाने की जिम्मेदारी दी जा रही है। ताकि बच्चों को समय पर पोषण आहार मिल सकें। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि संचालनालय द्वारा रेडी-टू-ईट वितरण करने का आदेश दिया गया है। लेकिन बीज निगम और समूहों के मध्य अनुबंध नहीं हो पाया है।

इसलिए रेडी-टू-ईट सीधे आंगनबाड़ी कार्यकताएं परिवहन कर ले जा रही है। इसके लिए उन्हें परिवहन शुल्क व टीए-डीए दी जाएगी।

महिला एवं बाल विकास विभाग से मिली जानकारी के अनुसार आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से नौनिहालों को हर सप्ताह 750 ग्राम को रेडी टू-ईट दिया जाता है। जबकि प्रत्येक प्रथम और तीसरे मंगलवारको गर्भवती महिलाओं को 450 ग्राम रेडी-टू-ईट और शिशुवती महिलाओं को 900 ग्राम रेडी टू-ईट दिया जाता है। पोषण आहार के प्रत्येक 100 ग्राम में गेंहू 30 ग्राम,चना 20 ग्राम, फल्ली-पांच ग्राम, रागी-तीन ग्राम, शक्कर-27 ग्राम, ते-पांच ग्राम की मात्रा में रहती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close