राजनांदगांव (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना संक्रमण से बढ़ती हुई मरीजों की संख्या को नियंत्रित करने के लिए लोगों में जागरूकता लाना जरूरी है। इसके लिए अभियान चलाकर व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। इसके द्वारा ही कोरोना से मृत्यु दर को कम किया जा सकता है। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना, गोधन न्याय योजना, मनरेगा के लिए स्वीकृत कार्य तथा स्वच्छ भारत मिशन के तहत किए जाने वाले कार्यों की समीक्षा की।

कलेक्टर ने कहा कि कोरोना संक्रमण से सिर्फ प्रोटोकाल का पालन करके बचा जा सकता है। इसके लिए सभी को सतर्क रहना जरूरी है। मास्क लगाने, सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन करने से ही इसके संक्रमण से बचा जा सकता है। ग्रामीण क्षेत्रों में सभी सीईओ सरपंच, पंचायत सचिव के माध्यम से लोगों को जागरूक करें। कलेक्टर ने कहा कि कोरोना की इस विषम परिस्थिति में सिर्फ आवश्यक वस्तु खरीदने के लिए ही घर से निकले। यदि कोई व्यक्ति बाहर से आ रहा है तो कोरोना की जांच जरूर कराएं।

ग्रामीण क्षेत्रों में पॉजिटिव आने वाले लोगों को कोविड सेंटर में रखा जाए। होम आइसोलेशन में सिर्फ उन्हीं को रखा जाए जिसके घर अलग हवादार, रोशनी युक्त कमरा तथा शौचालय हो। कलेक्टर वर्मा ने कहा कि कोविड सेंटरों की व्यवस्था अच्छी होनी चाहिए। वहां भोजन, पेयजल, साफ-सफाई तथा अन्य सुविधा रहे। कोविड सेंटर के लिए बनाए गए नोडल अधिकारी, डॉक्टर की टीम के साथ मरीजों से बात करें और उनकी सुविधाओं की जानकारी लें। प्रत्येक कोविड सेंटर में पैरामेडिकल स्टाफ रखा जाए। उन्होंने कहा कि भोजन की गुणवत्ता और साफ-सफाई में कोई शिकायत नहीं आनी चाहिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020