खैरागढ़। सरकारी कार्यालयों में अव्यवस्था का आलम है। कई कार्यालयों में दस्तावेज संधारित नहीं पाए गए तो कई दफ्तरों में रखरखाव में लापरवाही पाई गई। खैरागढ़ राजस्व कार्यालय का औचक निरीक्षण करने पहुंचे दुर्ग संभागायुक्त महादेव कावरे को अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय, तहसील कार्यालय एवं पटवारी कार्यालय के आकस्मिक निरीक्षण के दौरान अधिकारियों कर्मचारियों की कई लापरवाही मिली।

निरीक्षण के दौरान तहसील कार्यालय पहुँचें संभागायुक्त कावरे ने वहां कानूनगों शाखा, नायब नाजिर शाखा, डब्लूबीएन शाखाओं में जाकर वहां

संधारित होने वाले अर्थदंड पंजी, सर्किल नोट बुक, वर्गीकरण पंजी, कोटवार पंजी व पटेली पंजी का अवलोकन किया। ग्राम अमलीडीह का सर्किल नोट बुक विगत कई वर्षों से अद्यतन नहीं पाए जाने पर संभागायुक्त कावरे ने संबंधित

कर्मचारी ज्योतिर्मय तिवारी को फटकार लगाते हुए 15 दिवस के भीतर पूर्ण करने के निर्देश दिए। साथ ही दौरा दैनदिनी नहीं बनाए जाने पर तहसीलदार प्रीतम साहू को दौरा देनदिनी बनाते हुए पालन किए जाने के स्पष्ट निर्देश दिए गए।

पटवारी कार्यालय में दस्तावेजी रख-रखाव खराबः संभागायुक्त कावरे ने खैरागढ़ के पटवारी कार्यालय, पटवारी हल्का नं 30, 31 एवं 32 का निरीक्षण किया। संधारित खसरा, बी-वन, नक्शा, निस्तार पत्रक एवं अन्य दस्तावेजों की जांच की। ग्राम लालपुर, अमलीडीह, सोनेसरार, धनेली एवं खम्हरिया के लंबित नक्शा नवीनीकरण के शीघ्र निराकरण के निर्देश दिए। कावरे ने पटवारी कार्यालय में दस्तावेजों के अव्यवस्थित रख-रखाव पर नाराजगी व्यक्त करते हुए पटवारी छेदीलाल जांगड़े को दस्तावेजों के व्यवस्थित रख-रखाव के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान नए जिले के ओंएसडी डा.जगदीश सोनकर सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

निरीक्षण के दौरान लंबित प्रकरणों पर लगाई फटकार

निरीक्षण के दौरान न्यायालय तहसीलदार में कुल 605 प्रकरण, नायब तहसीलदार न्यायालय में कुल 260 प्रकरण एवं न्यायालय नायब तहसीलदार रश्मि दुबे के कार्यालय में 190 प्रकरण लंबित होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए अटके मामलों में शीघ्र आदेश पारित करने के निर्देश तहसीलदार प्रीतम साहू एवं नायब तहसीलदार मनीषा देवांगन को दिए। कावरे द्वारा न्यायालय अनुविभागीय अधिकारी में तीन वर्ष से अधिक समय से लंबित प्रकरण पाए जाने पर संबंधित रीडर चंद्रशेखर माली की वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश दिए। लोक सेवा गारंटी अधिनियम तहत प्राप्त आवेदनों पर की गई कार्रवाई पर समीक्षा के दौरान समय सीमा के बाहर 33 प्रकरण लंबित पाए जाने पर तहसीलदार को इस पर तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए। आम जनता से चर्चा के दौरान खैरागढ़ निवासी बाबूलाल देवांगन द्वारा नामांतरण का प्रकरण लंबित होना बताया गया जिस पर कावरे ने पंजीयन उपरांत आनलाइन आवेदन में इसकी जांच कर त्वरित निराकरण के निर्देश तहसीलदार को दिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close