राजनांदगांव (वि.)। शिक्षा सत्र के प्रारंभ होने के साथ ही स्कूलों में शाला प्रवेश उत्सव मनाया जा रहा है इसी परिपेक्ष्‌य में गजानन माधव मुक्तिबोध हायर सेकेंडरी स्कूल शंकरपुर में प्राइमरी, मिडिल एवं हाई स्कूल के नव प्रवेशी बच्चों के साथ शाला प्रवेश उत्सव मनाया गया।

मुख्य अतिथि के रूप में महापौर हेमा सुदेश देशमुख उपस्थित थी। महापौर ने शिक्षा और संस्कार को प्रगति का आधार बताते हुए सब को मन लगाकर शिक्षा अध्ययन करने को प्रेरित की और शिक्षा अध्ययन के साथ-साथ अपने संस्कार को भी ना भूलने की नैतिक बाते बताई क्योंकि शिक्षा ही ऐसा ज्ञान है जो किसी से मांगने से नहीं मिलती बल्कि स्वयं के लगन एवं अध्ययन से प्राप्त होती है। अतः आप सब पूरी लगन से पढ़ाई करते हुए अपने परिवार का वार्ड का और स्कूल का नाम रोशन करेंगे मैं आप सबको शाला प्रवेश उत्सव के लिए बधाई शुभकामना देती हूं।शाला विकास समिति के अध्यक्ष अधिवक्ता रूपेश दुबे ने कहा कि संस्कारधानी के मूर्धन्य साहित्यकार मुक्तिबोध के नाम से वार्ड एवं स्कूल होना हम सबके लिए गौरव की बात है और इस संस्था ने अपने इस गौरवशाली परंपरा को बनाए रखा है इसके लिए शाला परिवार के शिक्षक शिक्षिकाएं एवं आप सब अध्ययनरत छात्र-छात्राओं का इसमें अमूल्य योगदान है। ऐसे में हम और बेहतर सामंजस के साथ काम कर अपने मंजिल को प्राप्त करें। वार्ड के पार्षद शिव वर्मा ने इस अवसर पर महापौर हेमा देशमुख से स्कूल के छत मरम्मत की मांग की जिस पर देशमुख ने प्राक्कलन तैयार करने का निर्देश दिया। अतिथियों के उद्बोधन के पूर्व संस्था की प्राचार्या वर्षा शर्मा ने शाला की गतिविधियों से उपस्थित जनों को अवगत कराते हुए प्रतिवेदन का पठन किया। अतिथियों ने प्राइमरी मिडिल एवं हाई स्कूल के छात्र छात्राओं का पुष्प हार से स्वागत करते हुए तिलक अभिषेक कर उन्हें स्कूल ड्रेस एवं पाठ्य सामग्री वितरण कर मिष्ठान से मुंह मीठा कराते हुए शाला प्रवेश उत्सव मनाया एवं उपस्थित पालक एवं छात्र छात्राओं ने ताली बजाकर सभी का उत्साहवर्धन किया शाला में पालक एवं छात्र छात्राओं की उपस्थिति से शाला प्रवेशोत्सव की खुशहाली देखते बन रही थी।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close