राजनांदगांव। यातायात नियमों का पालन कराने और उल्लंघन रोकने यातायात व परिवहन विभाग में स्टाफ का बड़ा रोना है। फिर भी यातायात विभाग जैसे-तैसे संसाधन और इच्छा शक्ति जुटाकर शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में अभियान चलाती है, लेकिन परिवहन विभाग इससे मामले में काफी पीछे है। परिवहन विभाग में न तो संसाधन हैं और न ही अधिकारी-कर्मचारियों में इस दिशा पर काम करने की इच्छा शक्ति है। गंभीर बात तो यह है कि परिवहन विभाग का जिला कार्यालय प्रभारी अधिकारी के भरोसे चल रहा है, जो हफ्ते में दो से तीन ही दिन कार्यालय आते हैं। इसके चलते नए ड्राइविंग लाइसेंस की अर्जी देने वालों को चक्कर तक लगाना पड़ जाता है। एक दिन के काम के लिए लोगों को हफ्तेभर घूमना पड़ता है। यहां कर्मचारियों की उदासीनता भी लोगों को परेशान कर देती है, जिसको लेकर लोगों में रोष भी है।

0 टालमटोल कर लौटा देते हैं कर्मचारी

जिला क्षेत्रीय परिवहन विभाग प्रभारी अधिकारी के भरोसे हैं। पड़ोसी जिला बालोद में पदस्थ परिवहन अधिकारी रविंद्र ठाकुर को प्रभार है। वह हफ्ते में दो से तीन दिन कार्यालय पहुंचते हैं। इसके चलते कार्यालय में कर्मचारियों की मनमानी बढ़ गई है। अधिकारी के नहीं होने पर कर्मचारी नए लाइसेंस व लाइसेंस का नवीनीकरण कराने के लिए आने वाले लोगों को अधिकारी नहीं होने का बहाना कर लौटा देते हैं। या कई दिन टालमटोल कर देते हैं, जिसके कारण लोगों को निराश होकर लौटना पड़ता है।

0 एक दिन के काम के लिए हफ्तेभर चक्कर

आरटीओ कार्यालय पहुंचे छुरिया मासूल के मनोहर कंवर और संतोष नेताम ने कहा कि लाइसेंस नवीनीकरण कराने आवेदन दिया है। एक दिन में नवीनीकरण होने की बात कही थी, लेकिन तीन से चार दिनों में आने के बाद भी लाइसेंस नवीनीकरण नहीं हुआ है। सोमवार को फिर आने कहा है। इसी तरह नए लाइसेंस बनाने पहुंचे पदुमतरा के प्रीतम साहू ने कहा कि बुधवार को बुलाए हैं। उन्होंने प्रशासन से व्यवस्था बनाने की मांग की है, ताकि लोगों को भटकना न पड़े।

0 यातायात में भी स्टाफ की कमी

यातायात शाखा में भी स्टाफ की कमी है। इसके चलते ट्रैफिक नियमों को तोड़ने वालों पर कार्रवाई के लिए टीम रोजाना कार्रवाई नहीं कर पाती। वहीं यातायात नियमों के उल्लंघन करने वालों को रोकने के लिए भी टीम समय पर काम नहीं कर पाता। यातायात के पास संसाधन तो हैं, जिससे बीच-बीच में अभियान चलाकर यातायात पुलिस की टीम गाड़ियों को जब्त कर कार्रवाई करती है। पिछले छह माह में ही यातायात पुलिस ने 396 लोगों के खिलाफ चालानी कार्रवाई की है।

00 वर्जन..

किसी तरह की दिक्कत नहीं

लाइसेंस नवीनीकरण की प्रक्रिया जल्द हो जाती है। नए लाइसेंस जारी होने में ही समय लगता है। हालांकि उससे पहले आवेदकों को लर्निंग जरूर मिल जाता है। किसी तरह की दिक्कत अभी तक सामने नहीं आई है। व्यवस्था में हर दिन सुधार का प्रयास भी कर रहे हैं।

रविंद्र ठाकुर, प्रभारी आरटीओ

00

लगातार चला रहे अभियान

शहर में अभियान जारी है। यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। शहर में सिग्नल तोड़ने वालों पर चालानी कार्रवाई कर रहे हैं। अभियान लगातार जारी रहेगा।

गजेंद्र ठाकुर, डीएसपी यातायात

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस