राजनांदगांव । अब जिले के राजस्व अनुभाग यानी एसडीएम कार्यालयों में हर सप्ताह जनदर्शन लगाया जाएगा। जनता की समस्याएं सुनने वहां संबंधित एसडीएम दोपहर 1.30 2.30 बजे तक एक घंटे अनिवार्य रूप से बैठा करेंगे। साथ ही सभी कार्यालयों में सुबह 10 बजे राष्ट्रगान के साथ कामकाज शुरू होगा। मंगलवार को साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर डोमन सिंह ने अधिकारियों से दो टूक कहा कि शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं में अधिकारी-कर्मचारी उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए

कार्य करें।

कलेक्टोरेट सभाकक्ष में साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में उन्होंने कहा कि जिले के सभी कार्यालय में सुबह 10 बजे राष्ट्रगान होगा। जनदर्शन मंगलवार को दोपहर 1.30 बजे से दोपहर 2.30 बजे तक रहेगा। इस दौरान सभी एसडीएम इसी समय पर विकेंद्रित रूप से अपने अनुविभाग में जनदर्शन रखेंगे।

इससे जनसामान्य के समय एवं श्रम की बचत होगी। इसी दिन मंगलवार को पटवारियों एवं सचिवों की बैठक लें। सभी

सीएमओ, जनपद सीईओ के कार्यों की वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से समीक्षा

की जाएगी।

लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचेः कलेक्टर सिंह ने कहा कि शासन की लोककल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन जमीनी स्तर पर होना चाहिए। शासन की सुराजी गांव योजना, गोधन न्याय योजना का लाभ गांव के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचना चाहिए। सकारात्मक सोच एवं समन्वित तरीके से टीम वर्क के साथ कार्य करें। उन्होंने कहा कि शत-प्रतिशत गोठानों की स्वीकृति देने के साथ ही सभी गोठानों में गोबर खरीदी होनी चाहिए। जिससे जरूरतमंद व्यक्तियों को लाभ मिल सकेगा।

किसानों को पौधारोपण करने प्रोत्साहित करें: कलेक्टर सिंह ने कहा कि बारिश को ध्यान में रखते हुए सघन पौधरोपण के लिए तैयारी रखें। वन, कृषि एवं उद्यानिकी विभाग को पौधरोपण के लिए आवश्यक कार्ययोजना बनाने व्यवस्था सुनिश्चित करने कहा। मुख्यमंत्री पौधारोपण प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत किए जा रहे कार्यों की जानकारी ली। उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को किसानों को पौधारोपण के लिए प्रोत्साहित करने के लिए कहा। वन विभाग एवं कृषि विभाग को सभी विकासखंडों में इस योजना के लिए हितग्राहियों का चिन्हांकन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शासन के निर्देशानुसार सभी आवश्यक वस्तुएं महिला स्वसहायता समूह द्वारा निर्मित स्थानीय उत्पादों को लिया जाना है। सभी विभाग इसे प्राथमिकता देते हुए अपने कार्यालयों के लिए सी-मार्ट से खरीदी करें। इसके साथ ही उन्होंने आदिवासी, शिक्षा, महिला बाल विकास तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा सी-मार्ट से की गई खरीदी के संबंध में जानकारी ली। कोविड-19 की चौथी लहर को ध्यान में रखते हुए छूटे हुए सभी अधिकारियों-कर्मचारियों, फ्रंट लाईन वर्कर को प्रिकॉशन डोज पूरा कराने के लिए कहा। स्कूली बच्चों के टीकाकरण में गति लाने के निर्देश दिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close