राजनांदगांव। सोमवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय में एसपी डी. श्रवण ने क्राइम मीटिंग ली। जिसमें उन्होंने लंबित मामलों की समीक्षा के साथ चिटफंड मामले पर तत्काल एक्शन लेने के निर्देश दिए।

वहीं जनचौपाल और विजुअल पुलिसिंग के साथ साप्ताहिक अवकाश पर जोर दिया। उन्होंने अपराध रोकने व असामाजिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने दिए निर्देश दिए। इसके अलावा महिला व बच्चों और बुजुर्गों से संबंधी शिकायत व रिपोर्ट पर तत्काल कार्रवाई करने और लापरवाही नहीं बरतने हिदायत दी।

पुलिस अधिक्षक डी. श्रवण ने सभी राजपत्रित पुलिस अधिकारी व थाना प्रभारियों की बैठक ली। जिसमें कानून व्यवस्था और अपराधों के संबंध में जानकारी ली। मुख्य रूप से चिटफंड के प्रकरणों में चिटफंड़ कंपनियों से निवेशकों की जमा राशि वापस दिलाने के लिए स्थानीय लोगों से चिटफंड कंपनियों की संपतियों की जानकारी लेकर वसूली के लिए नियमानुसार कार्रवाई करने और फरार आरोपितों की गिरफ्तारी जल्द करने के लिए हिदायत दी।

अपराधों पर नियंत्रण और आसामाजिक तत्वों, शराब व नशीले पदार्थो की खरीदी बिकरी, गुंडा बदमाश, निगरानी बदमाश, चाकूबाजों पर अंकुश लगाने के लिए संदिग्ध लोगों की पहचान कर तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

हिस्ट्रीशिटरों पर नजर रखने के दिए निर्देश

हिस्ट्रीशीटर और सक्रिय अपराधियों की लगातार चेकिग करते रहने के लिए भी पुलिस अधीक्षक ने निर्देश दिया। थानों पर लंबित विवेचनाएं, विशेषकर एससी एसटी एक्ट, महिला संबंधी अपराध, पाक्सो एक्ट आदि की समीक्षा की गई। सभी थाना व चौकी प्रभारियों ने अपने क्षेत्रों में जनदर्शन और चौपाल लगाकर आम जनता की समस्याएं सुनने की जानकारी दी। विजुअल पुलिसिंग के तहत चौक चौराहों में बल लगाने की जानकारी भी दी।

पेट्रोलिंग भी लगातार करें

एसपी ने सभी थाना और चौकी प्रभारियों को शाम के अलावा रात में पेट्रोलिंग लगातार करने के निर्देश दिए। ताकि गुंडा बदमाश, निगरानी बदमाश व असामाजिक तत्वों पर सतत नजर रख सके।

जितने भी मर्ग पेंडिंग है, उसका जल्द निराकरण करने की हिदायत भी दी गई। सांप्रदायिक मामलों पर कार्ययोजना तैयार कर सभी संगठनों पर नजर बनाए रखें।

इंटरनेट मीडिया की मानिटरिंग के माध्यम से डेडिकेटेड टीम तैयार कर उन्हें जानकारी हासिल करने व संवेदनशील मामलों की जानकारी तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को देने के निर्देश भी दिए।

बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रज्ञा मेश्राम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आइयूसीएडब्ल्यू सुरेशा चौबे, एसडीओपी आप्स मानपुर लोकेश देवांगन, डीएसपी (आइयूसीएडब्ल्यू) नेहा वर्मा, एसडीओपी गंडई अनुराग झा, एसडीओपी डोंगरगढ़ कृष्णा पटेल, एसडीओपी अंबागढ़ चौकी अर्जुन कुर्रे, एसडीओपी मानपुर हरि पाटिल, डीएसपी नासिर बाठी व जिले के सभी थाना और चौकी प्रभारी उपस्थित थे।

--

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local