महासमुंद। कांग्रेस भवन में बुधवार को झीरम घाटी में नक्सली हमले में वीरगति को प्राप्त बलिदानियों को कार्यक्रम आयोजित कर श्रद्धांजलि दी गई।

विगत नौ वर्ष पूर्व छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के परिवर्तन यात्रा के दौरान कांग्रेस पार्टी के प्रथम पंक्ति के नेताओं पर झीरम घाटी में प्राणघातक हमला हुआ था,जिसके अंतर्गत 32 से ज्यादा कांग्रेसजनों की जान चली गई थी। पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नंद कुमार पटेल, छत्तीसगढ़ शासन के पूर्व कैबिनेट मंत्री महेंद्र कर्मा, उदय मुदलियार, योगेंद्र तिवारी के साथ अन्य कांग्रेसजनों के बलिदान को याद करते हुए संसदीय सचिव एवं स्थानीय विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने इसे छत्तीसगढ़ के लिये अपूर्णीय क्षति निरूपित किया।

जिला अध्यक्ष डा. रश्मि चंद्राकर ने अपने मार्मिक शब्दों में पुष्पांजलि अर्पित करते हुए समस्त कांग्रेसजनों से पार्टी और संगठन के लिए बलिदान नेताओं के द्वारा जारी संघर्ष को जारी

रखते हुये, उनके कार्यो को अपनाने की बात कही। वहीं पूर्व विधायक मकसूदन लाल चंद्राकर ने नेताओं के

बलिदान को पूरे छत्तीसगढ़ के

लिए दुखद एंव अविस्मरणीय घटना निरूपित किया।

श्रद्धांजलि कार्यक्रम में कांग्रेस के उपस्थित नेतागण ने अपने-अपने अनुभव कार्यकर्ताओं के मध्य साझा किया। कांग्रेस के लिए हमेशा साथ देने के वादों का संकल्प लिया गया। समस्त कांग्रेस जनों द्वारा 25 मई को बलिदान दिवस के रूप में राजकीय अवकाश घोषित

करवाने हेतु राज्य शासन से मांग करने का संकल्प लिया गया। अंत मे सभी बलिदानियों के लिए दो मिनट का मौन रखा गया। कार्यक्रम का संचालन शहर अध्यक्ष खिलावन बघेल ने किया।

जिसमें ढेलु निषाद, प्रभारी महामंत्री संजय शर्मा, सोमेश दवे, गुरमीत चावला, गौरव चंद्राकर,नेता प्रतिपक्ष राशि महिलांग, लक्ष्‌मी देवांगन, अन्नाू चंद्राकर, लता कैलाश चंद्राकर, ममता चंद्राकर, लक्ष्‌मी सोनी, ऋषि वर्मा, राजू साहू, हुलास गिरी गोस्वामी, गोविंद साहू एल्डरमैन सुनील चंद्राकर,अनवर हुसैन, जावेद चौहान, मिंदर चावला, हर्षित चंद्राकर, खेमराज ध्रुव, लखन चंद्राकर, मनोहर ठाकुर, नितेंद्र बैनर्जी, अजय थवाइत, उमेश रावल, दिनेश दुबे, बसंत चंद्राकर, गोपी पाटकर, विनोद युगर, लीलू साहू, युवराज साहू, संतोष धीवर आदि ने अपने-अपने विचार व्यक्त करते हुए श्रद्धा सुमन अर्पित की।आभार प्रदर्शन गुरमीत चावला ने किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close