राजनांदगांव। कोरोना का संक्रमण शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार बढ़ रहा है। इसको लेकर प्रशासन ने सख्ती शुरू कर दी है। बिना मास्क के घूमने वालों से जुर्माना वसूल किया जा रहा है। वहीं प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी भी शुरू कर दी है। खासकर शहरी क्षेत्र में, क्योंकि शहर के वार्डों में हर दिन संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। शहर के सदर बाजार को पहले ही प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन घोषित कर रखा है। वहीं ग्रामीण क्षेत्र में डोंगरगढ़ एरिया को भी कंटेनमेंट जोन में शामिल किया गया है। गुरुवार को जिले में 136 नए संक्रमितों की पहचान की गई है, जिसमें 52 संक्रमित शहरी वार्डों में मिले हैं। नए 84 संक्रमितों की पहचान जिले के अन्य ब्लाकों में की गई है। इसमें सबसे ज्यादा 20 संक्रमित खैरागढ़ ब्लाक में सामने आए हैं। शहर के लखोली वार्ड में भी छह संक्रमित मिले हैं। लगातार बढ़ते संक्रमण को लेकर प्रशासन अब ज्यादा संक्रमित मिलने वाले वार्डों को कंटेनमेंट जोन बनाने की तैयारी में जुट गई है। इसके लिए शहर के वार्डों को चिंहाकित किया जा रहा है।

शहर में यहां मिले नए संक्रमित

शहर के लखोली में छह और तुलसीपुर वार्ड में पांच, मोतीपुर में चार, ममता नगर, जनता कालोनी व कौरिनभाठा में तीन-तीन संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा सदर बाजार, कामठी लाइन, राम नगर व अनुपम नगर में दो-दो नए पाजिटिव मरीज सामने आए हैं। वहीं लालबाग, बसंतपुर, चिखली, गौरी नगर, जीवन कालोनी, बल्देव बाग, आजाद चौक, रामाधीन मार्ग, जीएमसीएच, कन्हारपुरी, गोल बाजार, गंज लाइन, मठपारा, महेश नगर, चंद्रा कालोनी, शिक्षक कालोनी, भवानी नगर, कमला कालेज रोड, नेहरू नगर व सुंदरा हास्पिटल में एक-एक पाजिटिव मरीज मिले हैं। इसी तरह अंबागढ़ चौकी ब्लॉक में छह, छुईखदान में नौ, छुरिया में तीन, डोंगरगांव में भी नौ, डोंगरगढ़ में 15, खैरागढ़ में 20, मानपुर में तीन, मोहला ब्लॉक में 12 और राजनांदगांव ग्रामीण में चार संक्रमितों के साथ अन्य क्षेत्र से भी तीन नए संक्रमितों की पहचान की गई है। राहत की बात यह है कि जिले में गुरुवार को 125 लोग कोरोना से ठीक होकर घर पहुंच गए हैं।

कंटेनमेंट जोन में आधे शटर खोलकर कर रहे दुकानदारी

खैरागढ़ । शहर में बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने पांच वार्डों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। जहां जरूरी दुकानों को छोड़कर शेष को बंद करने का निर्देश जारी किया गया है, लेकिन पहले ही दिन कंटेनमेंट जोन में आदेश की धज्जिायां उड़ती दिखी। प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन वाले एरिया को बांस और बल्ली से ब्लाक किया है। वहीं कुछ रास्तों में पुलिस भी तैनात की गई है। इसके बाद भी कंटेनमेंट जोन में लोगों की लापरवाही कम नहीं हुई है। यहां प्रतिबंधित दुकानों के आधे शटर खोलकर खरीदी-बिक्री होती रही। साथ ही लोग बिना मास्क लगाए खरीदारी करते दिखे। ऐसी स्थिति में कोरोना संक्रमण पर रोक लगा पाना किसी चुनौती से कम नहीं है। प्रशासन की ओर से सात से दो बजे तक दी गई छूट का भी पालन नहीं किया गया। शहर के पांच वार्ड के कंटेनमेंट जोन में हैं। इन वार्डों में लगातार कोरोना के मरीज मिल रहे हैं, लेकिन लोगों की लापरवाही संक्रमण को और बढ़ावा देती नजर आ रही है।

कंटेनमेंट जोन में नहीं दिखी सख्ती

शहर में लगातार कोरोना मरीज निकल रहे हैं। इसके बाद भी लोगों की लापरवाही कम नहीं हुई है। यही वजह है कि हालात सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। इधर लोगों की लापरवाही पर प्रशासन ने सख्ती अपनाते हुए शहर के पांच वार्डो को कंटेनमेंट जोन घोषित कर 12 बिंदुओं पर दिशा-निर्देश जारी किया। साथ ही निर्देशों का पालन नहीं करने पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं, लेकिन पहले दिन निर्देश में जारी सख्तियां देखने को नहीं मिली। शहर के कंटेनमेंट जोन घोषित हुए दाउचौरा वार्ड 16, टिकरापारा वार्ड 18, अंबोडकर वार्ड 19, सिविल लाइन वार्ड 20 और गोलबाजार वार्ड शामिल हैं।

सुबह निकले जांच करने, फिर गायब दिखे जिम्मेदार

कंटेनमेंट जोन के निगरानी की जिम्मेदारी संभाल रही सीएमओ सीमा बख्शी ने पालिका की टीम के साथ शहर का निरीक्षण किया। वहीं उन्होंने सुबह ब्लाक किए गए वार्डो में व्यवस्थाएं भी परखी, लेकिन इसके बाद अधिकारियों की टीम ने दोबारा झांका तक नहीं। हांलाकि इस दौरान छोटी-मोटी कार्रवाई हुई, लेकिन जिस तरह से सख्ती दिखायी जानी थी, उस तरह से नहीं दिखी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस