सुकमा। केंद्र सरकार में बैठी भाजपा जिनकी नाकामी व गलत नितियों के कारण आज मंहगाई बढ़ रही है। प्रेट्रोलियम प्रदार्थों के दाम बढ़ गए है। इससे हर वर्ग प्रभावित हो रहा है। भाजपा कह रही है कि वैट कम करो, लेकिन वैट तो हमारी सरकार ने नहीं बढ़ाया है, उसके बावजूद भी जनता को राहत देने के लिए कुछ वैट घटाया है। वहीं भाजपा की केंद्र सरकार ने पिछले एक साल से किसानों पर बहुत अत्याचार किया है। काला कानून लाया है, लेकिन किसानों के आंदोलन व हमारे पार्टी के नेता राहुल गांधी की कोशिश के कारण केंद्र सरकार झुक गई और बिल वापस लिया है। आज प्रदेश में ग्रामीण इलाकों की आर्थिक मजबूती देने के लिए कई योजनाएं संचालित की जा रही है। उक्त बाते प्रदेश के मंत्री कवासी लखमा ने कही।

शुक्रवार को जिला मुख्यालय में कांग्रेस पार्टी द्वारा केंद्र सरकार के खिलाफ चलाए जा रहे, जन जागरण पदयात्रा के समापन कार्यक्रम का आयोजन था जिसमें शामिल होने के लिए मंत्री कवासी लखमा व कार्यक्रम प्रभारी रीना रावतिया पहुंचे। पटनम पारा में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मंत्री कवासी लखमा का स्वागत किया।

अब जनता का दर्द नहीं महसूस हो रहा

कार्यक्रम प्रभारी रीना रावतिया ने कहा कि पहले भाजपा की नेत्री स्मृति इरानी महंगाई के खिलाफ यूपीए सरकार में खूब गैस सिलिंडर लेकर धरना देती है, लेकिन अब वर्तमान में इतनी महंगाई बढ़ गई है, क्या अब जनता का दर्द नहीं महसूस हो रहा है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नितियों के कारण महंगाई आसमान छू रहा है। जनता परेशान है हर वर्ग के लोग त्रस्त है। वहीं दूसरी और प्रदेश सरकार गरीबों के हित में कई योजनाएं संचालित कर रही है, गरीबों को पट्टा देने व राशन कार्ड बनाने का काम किया जा रहा है।

महंगाई के पीछे केंद्र सरकार जिम्मेदार

वहीं सभा को नगर पालिका अध्यक्ष राजू साहू, जिला अध्यक्ष महेश्वरी बघेल ने भी संबोधित करते हुए महंगाई के पीछे केंद्र सरकार को ठहराते हुए कहा कि आने वाले चुनाव में जनता उखाड़ फेकेंगी। इस दौरान 12 लोगों ने कांग्रेस पार्टी में प्रवेश किया। इस दौरान जमील खान, जगदीश कनौजिया, राजेंद्र सिंह, गब्बर सिंह, सुधीर पांडे, नाजिम खान, लक्ष्‌मण मंडावी, लखमाराम नाग, शेख सज्जार, आयशा हुसैन, सुनील यादव, रमेश राठी, मो. हुसैन, सुनील राठी समेत काफी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local