सुकमा (नईदुनिया न्यूज)। जिले में दुलेड़ व ताड़मेटला के जंगलों में सुरक्षा बल के जवान व नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में एक नक्सली मारा गया था और विस्फोटक सामग्री बरामद की गई थी। मारे गए नक्सली की शिनाख्त मिलिशिया कमांडर माड़वी भीमा के रूप में हुई। उस पर शासन की और से एक लाख का इनाम घोषित था। वो 2020 में मिनपा घटना जिसमें 17 जवान शहीद हुए थे, उसके समेत 11 घटनाओं में शामिल था। वहीं दूसरी और नक्सलियों ने एक दिवसीय बंद का एलान किया था चिंतागुफा के पास सड़क पर पत्थर व लकड़ी डालकर बैनर लगाए गए थे लेकिन मौके पर फोर्स पहुंच कर बैनर बरामद कर लिए गए और रास्ता खोल दिया गया।

पुलिस के मुताबिक संयुक्त फोर्स गढ़गढ़मेटा व ताड़मेटला के बीच सर्चिग कर वापस लौट रही थी तभी 15 से 20 नक्सलियों ने घात लगाकर जवानों पर हमला कर दिया उसके बाद जवानों ने जवाबी कार्रवाई की जिसमें एक नक्सली मारा गया और हथियार समेत विस्फोटक सामग्री बरामद की गई। मारे गए नक्सली की पहचान माड़वी भीमा मिलिशिया कमांडर के रूप में हुई है जिस पर एक लाख का इनाम शासन ने घोषित किया हुआ है। वही मौके से एक भरमार बंदूक, एक आईईडी, 20 नग इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, बीजीएल सेल समेत सामग्री बरामद हुई।

वही माड़वी भीमा 10 मामलों में भी शामिल था जिसमें स्थायी वारंट निकले हुए थे और पुलिस को तलाश थी। वहीं एसपी सुनील शर्मा ने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ आपरेशन जारी रहेंगे और इस तरह की कार्रवाई की जाएगी।

नक्सली बंद, मार्ग अवरूद्ध करने की कोशिश

इधर नक्सलियों ने गढ़चिरौली मामले को लेकर एक दिन बंद का एलान किया था। देर रात को चिंतागुफा के पास नक्सलियों ने बैनर-पोस्टर लगाए और सड़क पर पत्थर लकड़ी डालकर मार्ग अवरूद्ध करने की कोशिश की लेकिन सूचना मिलते ही फोर्स मौके पर पहुंची और बैनर व पोस्टर बरामद कर लिए गए और रास्ता खोल दिया गया।

नक्सलियों क्षतिग्रस्त किया गया पाइप लाइन

नक्सलियों ने बंद का एलान किया था, जिसमे शुक्रवार की रात को सुकमा जिले के गादीरास के परिया गांव के समीप आर्सेलन मित्तल पाइप लाइन को नुकसान पहुंचाया गया। दूसरे दिन शनिवार को मैकेनिक टीम पहुंची और उसे मरम्मत किया।

Posted By: Ravindra Thengdi

NaiDunia Local
NaiDunia Local