सुकमा। जिले में वर्ष 2021-2022 के लिए धान खरीदी के लिए आवश्यक तैयारियां कर ली गई हैं। जिले में एक दिसंबर 2021 से 31 जनवरी 2022 तक 16 धान उपार्जन केंद्रों में पूर्व वर्षों की भांति धान खरीदी की जाएगी।

कृषकों की सुविधा के लिए खरीफ वर्ष 2021-22 में जिले में 02 नवीन धान उपार्जन केंद्रों (बिरसठपाल, कुंदनपाल) की स्वीकृति मिली है, जिसमें समस्त तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं।

धान उपार्जन केंद्रों में प्रति सप्ताह शुक्रवार से रविवार तक धान विक्रय के लिए टोकन जारी किया जाएगा। वहीं राज्य शासन द्वारा समर्थन मूल्य पर मक्का की खरीदी 01 दिसंबर से 28 फरवरी तक की जाएगी। इस वर्ष 2014 कृषकों के नवीन पंजीयन किए गए है, कुल 14 हजार 492 कृषकों द्वारा 35 हजार 876.9959 हेक्टेयर रकबे में धान की खेती की गई है।

गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष धान के रकबे में 9.01 प्रतिशत (5475.9650 हेक्टेयर) की वृद्धि हुई है।

शासन द्वारा धान खरीदी के प्रथम दिवस से ही 25 प्रतिशत धान, किसानों के बारदानों में खरीदी करने का निर्णय लिया गया है, अतः किसान भाइयों से अनुरोध है, विक्रय करने वाले धान का 25 प्रतिशत स्वयं के जूट बारदानों में लाए। कलेक्टर विनीत नंदनवार के निर्देशानुसार धान खरीदी के लिए जिले में समस्त तैयारियां कर ली गई है।

उन्होंने सीमावर्ती क्षेत्रों के उपार्जन केंद्रों के साथ सभी संवेदनशील खरीदी केंद्रों की विशेष रूप से निगरानी के निर्देश तहसीलदारों को दिए। इसके साथ ही अंतर राज्यीय सीमाओं पर बने चेक पोस्ट की भी कड़ी निगरानी और नियमित निरीक्षण करने के निर्देश दिए हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local