सुकमा। प्रदेश में जब से भूपेश बघेल की सरकार बनी है तब से विकास कार्य तेजी से हो रहे है। सुकमा जिले में पिछले तीन सालों में तहसील कार्यालय, स्कूल, आश्रम, सोसायटी, बैंक खोले गए। जेलों में बंद निर्दोष आदिवासियों को जेलों से रिहा किया गया उक्त बातें मंत्री कवासी लखमा ने कही।

मंगलवार को जिला मुख्यालय स्थित विश्राम गृह में मंत्री कवासी लखमा ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि एक साल बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सुकमा आ रहे है। पिछले साल जिले का दौरा किये थे लेकिन उस समय सभा कर के लौट गए थे लेकिन इस बार भेंट मुलाकात कर रात को रुकेंगे। और जनप्रतिनिधि, अधिकारी, समाज प्रमुख से भेंट मुलाकात करेंगे। सबसे पहले कोंटा फिर छिंदगढ़ उसके बाद सुकमा आएंगे।

वही उन्होंने कहा कि हमने घोषणा पत्र व भाषणों में कहा था कि जेलों में बंद निर्दोष आदिवासियों को रिहा करेंगे पिछले तीन सालों में करीब 12 सौ निर्दोष को रिहा किया गया। वही इन तीन सालों में ग्रामीणों को जबरन जेल भेजना व मारपीट की घटनाए न के बराबर हो रही है। आज ग्रामीण व महिलाएं बेख़ौफ़ बाजार आ रहे है। उन्होंने कहा कि इन तीन सालों में जिले के अंदरूनी इलाको में सड़कों का निर्माण किया गया, बिजली व स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर काम किया गया।

नई तहसीले खोली गई जिससे ग्रामीणों के कामकाज सरल हुए। वही 25 साल बाद तीन दिन तक जगरगुंडा मेले का आयोजन किया गया जिसमें हजारों लोगों ने भाग लिया। हमारी सरकार ने ताड़मेटला, तिम्मापुरम व मोरपल्ली आगजनी पीड़ित व एर्राबोर घटना के पीड़ितों को मुआवजा राशि दी गई। देवगुड़ी का निर्माण कराया गया। जो 15 सालों में नही हुआ वो विकास कार्य तीन सालों में हुए है और उन कार्यो को देखने व लोगो से भेंट मुलाकात करने के लिए मुख्यमंत्री आ रहे है। इस दौरान महेश्वरी बघेल, राजू साहू, दुर्गेश राय, शेख सज्जार मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close