सुकमा। शासन की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर पांच नक्सलियों ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। सभी को प्रोत्साहन राशि दी गई है और पुनर्वास नीति का लाभ दिया जाएगा। रविवार को जिला मुख्यालय स्थित पुलिस अधीक्षक कार्यलय में एसपी सुनील शर्मा के समक्ष पांच नक्सलियों ने आत्म समर्पण किया है।

नक्सल संगठन के ये नक्सली बुर्कापाल, मिनपा व पिडमेल जैसी घटनाओं में शामिल थे। जिसमें माड़वी जोगा प्लाटून नम्बर 10 का सदस्य पर दो लाख का इनाम घोषित था। मुचाकी देवा जंगल कमेटी अध्यक्ष, माड़वी माड़ा डिप्टी कमाण्डर, मुचाकी कोसा जंगल कमेटी सदस्य व कट्टम हड़मा विकास कमेटी का सदस्य ने समर्पण किया। पुलिस अधिकारियों ने प्रोत्साहन राशि दी और पुनर्वास नीति का लाभ देने की बात कही।

आत्मसमर्पण कर विकास में भागीदार बने: शर्मा

पुलिस अधीक्षक सुनील शर्मा ने कहा कि जवानों द्वारा नक्सल इलाके में सर्चिंग कर दबाव बनाया जा रहा है। साथ ही शासन की पुनर्वास नीति व योजनाओं को अंदरुनी गांवों तक पहुंचाने का काम किया जा रहा है। जिससे प्रभावित होकर नक्सली आत्मसमर्पण कर रहे है। मैं अपील करना चाहूंगा कि आत्म समर्पण कर विकास के भागीदार बने और हिंसा का रास्ता छोड़े।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close