सुकमा। छत्‍तीसगढ़ के सुकमा में आंधी तूफान से पेड़ गिरने से एक छात्रा की मौत की खबर मिली है। बताया गया कि कन्या छात्रावास क्रमांक-1 सुकमा में एक कमरे से दूसरे कमरे जा रही थी, तभी तेज हवाओं से मुनगा का पेड़ गिरा, जिससे छात्रा के सिर पर चोट आई, जिससे उसकी मौत हो गई। देर शाम को तेज हवा व बारिश के साथ कई जगहों पर बिजली गिरी। वही छात्रावास में बिजली गिरने से पेड़ नीछे गिरा जिसके नीचे दबकर छात्रा की मौत हो गई। सूचना मिलते ही अधिकारी व जनप्रतिनिधि अस्पताल पहुंचे।

गुरुवार देर शाम को जिला मुख्यालय में जोरदार हवा चली और जमकर बारिश हुई। साथ ही आसमान में बिजली कड़कने लगी और जिले के कई इलाकों में बिजली भी गिरी। वही जिला मुख्यालय स्थित कन्या छात्रावास क्रमांक 1 में बिजली गिरी साथ ही मुनगा का पेड़ गिरा जिसके नीचे दबने से पतिकनाइकरास निवासी छात्रा ललिता नाग की मौत हो गई। वहां मौजूद चपरासी वृंदा बन्डो व छात्रा करिश्मा यादव विमला नाग ने बताया कि देर शाम 8.30 बजे ललिता दुकान में काम कर वापस लौटी और कपड़े बदलने के लिए जा रही थी, तभी जोरदार आवाज आई और ललिता की चीखने की आवाज पर बाहर आकर देखा तो पेड़ गिरा हुआ था और उसके नीचे ललिता थी, उसके सिर से बहुत खून बह रहा था, लेकिन तब तक उसकी सांस चल रही थी उसके बाद अस्पताल लाते वक्त मौत हो गई। वही स्‍वजनों को सूचना दी गई। इधर जानकारी मिलते ही जिला पंचायत सदस्य राजूराम नाग, नगर पालिका अध्यक्ष राजू साहू, एसडीएम प्रीति दुर्गम, एसी गणेश सोरी अस्पताल पहुँचे और घटनाक्रम की जानकारी ली।

अवकाश के बाद छात्रावास में रह रही थी छात्राएं

अधिकारियों की माने तो 30 अप्रैल से छात्रावास में अध्यनरत छात्राओं का अवकाश हो गया था। और लगभग सभी छात्राएं चली गई थी। लेकिन सोमवार को 2 छात्राएं वापस लौटी और फिर मंगलवार को ललिता के साथ एक और छात्रा वापस छात्रावास लौटी। और ये छात्राएं स्थानीय किराना दुकान में काम करने के लिए आई थी। और गुरुवार को ही काम पर गई थी।

छात्रावास में छात्राएं रह रही थी लेकिन अधिकारियों को नही थी जानकारी

छात्रावास में पिछले सोमवार से 4 छात्राएं रह रही रही जिसकी जानकारी किसी भी अधिकारियों को नही दी गई। जबकि 30 अप्रैल को अवकाश हो गया था। उसके बाद छात्रावास में ये छात्राएं रह रही थी। आखिरकार छात्रावास अधीक्षक ने इसकी जानकारी उच्च अधिकारियों को क्यो नही दी। साथ ही इन छात्राओं को रहने की अनुमति कैसे दी गई।

सहायक आयुक्त गणेश सोरी ने कहा कि छात्रावास में एक छात्रा की मौत आंधी-तूफान, बिजली व पेड़ गिरने से हुई है। ये छात्राएं बिना अनुमति के रह रही थी जबकि इनका अवकाश 30 अप्रैल को हो गया था। इस पूरे घटनाक्रम की जांच की जाएगी।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close