बिश्रामपुर(नईदुनिया न्यूज)। राखी पर्व के मद्देनजर राखी, होटल एवं किराना कारोबारियों को दुकान खोलने की प्रशासनिक छूट मिलते ही नगर में उमड़ी भीड़ से फिजिकल डिस्टेंसिंग के जारी दिशा-निर्देशों की खुलकर धज्जियां उड़ने के साथ ही लाकडाउन एवं जिले में लागू धारा 144 की व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त नजर आई।

बता दें कि लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के मद्देनजर आम लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिहाज से जिला प्रशासन द्वारा छह अगस्त तक जिले भर के नगरीय निकाय क्षेत्रों के साथ ही ग्राम पंचायत शिवनंदनपुर को कंटेंटमेंट जोन घोषित करते हुए लाकडाउन का निर्देश जारी किया गया। इस बार लाकडाउन में किराना दुकानों को भी खोलने की इजाजत नहीं दी गई। वहीं जिले भर में लागू धारा 144 को 16 अगस्त के लिए सूरजपुर कलेक्टर द्वारा बढ़ा दिया गया है।

इधर रक्षाबंधन पर्व पर आम लोगों की सहूलियत को ध्यान में रखते हुए जिला कलेक्टर द्वारा निर्धारित समय सीमा के लिए राखी दुकान, होटल एवं किराना दुकान को खोलने की छूट दिए जाने के बाद रविवार को एकाएक नगर के मेन मार्केट में उमड़ी भीड़ से कोरोना वायरस संक्रमण रोकने की प्रशासनिक कोशिश की धज्जियां उड़ती नजर आई। कहीं भी फिजिकल डिस्टेंसिंग की स्थिति नहीं नजर आई लोग बिना मास्क के मार्केटिंग करते नजर आए। वहीं धारा 144 का कहीं भी असर नहीं दिखा। पुलिस के तमाम प्रयासों के बावजूद होटल और दुकानों में लोगों का मजमा लगा रहा।

ऐसा लगा गायब हो गया कोरोना का खौफ

रविवार को नगर के मेन मार्केट में उमड़ी भीड़ को देखकर अेसा लगा कि लोगों से कोरोना का खौफ गायब हो गया है। सामान्य दिनों की भांति मेन मार्केट में लोगों की भीड़ नजर आई। किसी ने भी सोशल डिस्टेंसिंग संबंधी दिशा निर्देशों का पालन करने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। होटल एवं दुकानों में दुकानें खोलने के लिए निर्धारित समय पर लोग नियमों को तोड़ते हुए बेहिचक सामानों की खरीददारी करते नजर आए। रविवार को प्रशासनिक टीम भी मेन मार्केट से नदारद नजर आई। ऐसे में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है।

बचाव के लिए कसावट जरूरी

वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए प्रशासनिक कसावट जरूरी है। बुद्धिजीवी वर्ग का भी मानना है कि कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी और लगातार हो रही मौत चिंता का कारण है। इससे बचाव के लिए फेस मास्क का उपयोग एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ही एकमात्र उपाय है। स्वयं के साथ-साथ दूसरों को भी सुरक्षित रखने के लिए कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए शासन द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करना अनिवार्य है। बुद्धिजीवी वर्ग का कहना है कि लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाने के लिए प्रशासनिक कसावट जरूरी है। उन्होंने कहा कि छोटी सी लापरवाही नगर वासियों के लिए परेशानी का सबब बन सकती है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan