नई दिल्ली। Delhi Air Pollution 2019: दिल्ली की आबोहवा इस कदर जहरीली हो चुकी है कि अब दिल्ली-NCR में रहने वाले 40 फीसदी लोग अपने शहरों को छोड़ना चाहते हैं। यह खुलासा हाल ही में सामने आए एक सर्वे के बाद हुआ है। वहीं सर्वे के मुताबिक दिल्ली में प्रदूषण बढ़ने के दौरान 16 फीसदी लोग शहर छोड़कर कहीं भी ट्रेवल करना चाहते हैं। ऑनलाइन प्लेटफॉर्म 'LocalCircles' द्वारा दिल्ली और एनसीआर के 17 हजार लोगों पर यह सर्वे किया गया है जिसमें 13 फीसदी लोगों ने कहा कि इसे लेकर उनकी कोई राय नहीं हैं हालांकि उन्होंने दिल्ली में बढ़ रहे प्रदूषण से आजिज होने की बात जरुर कही। सर्वे के मुताबिक '40 फीसदी लोगों ने दिल्ली एनसीआर को छोड़कर जाने की बात कही। वहीं 31 फीसदी लोगों ने दिल्ली एनसीआर में ही रहने की बात कहते हुए खुद के साथ एयर प्यूरीफायर, मास्क, प्लांट्स से इक्वीप रहने का कहा।'

सर्वे में सामने आया कि '16 फीसदी लोगों ने कहा कि वह दिल्ली में रहना चाहते हैं लेकिन प्रदूषण का स्तर खतरनाक होने पर वह दिल्ली के बाहर ट्रेवल करना पसंद करेंगे।' सर्वे के दौरान जब पूछा गया कि पिछले एक हफ्ते में प्रदूषण ने उन्हें और उनके परिवार को कितना प्रभावित किया है तो 13 फीसदी लोगों ने जवाब दिया कि उनमें से एक या एक से अधिक लोग पहले ही अस्पताल जा चुके हैं। वहीं दूसरी ओर 29 फीसदी लोगों ने कहा कि वह डॉक्टर से पास विजिट कर चुके हैं।

वहीं 44 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्हें प्रदूषण की वजह से स्वास्थ्य समस्या हुई लेकिन उन्होंने डॉक्टर को नहीं दिखाया। वहीं सिर्फ 14 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्हें पॉल्यूशन बढ़ने से कोई परेशानी नहीं हुई।

बता दें कि दिल्ली में सोमवार को कई इलाकों में AQI 700 को पार कर गया था। 0 से 50 के बीच का AQI को 'Good' कैटेगरी में रखा जाता है। 51-100 के बीच के AQI को 'Satisfactory' माना जाता है। 101 से 200 के बीच का AQI 'Moderate' के अंतर्गत आता है। 201 से 300 के बीच का AQI 'Poor' कहलाता है। 301 से 400 के बीच का AQI 'Very Poor' माना जाता है और 401 से 500 के बीच का AQI 'Severe' कैटेगरी में आता है।

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket