नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में मिली भारी सफलता से गदगद आप नेताओं की केजरीवाल के घर पर बैठक चल रही है। यह बैठक आगे की रणनीति तय करने के लिए हो रही है। आप के विधायक दल की बैठक शाम को 6 बजे भी होगी।

गौरतलब है कि राजधानी में झाड़ू चली तो कई दशकों से जमे राजनेता भी सत्ता से बुहार दिए गए। 55 साल से एक भी चुनाव नहीं हार कर दिल्ली की राजनीति के भीष्म पितामह बन गए चौधरी प्रेम सिंह आम आदमी टोपी पहन कर चुनाव में उतरे अशोक कुमार के हाथों हार गए। यह महज नमूना है और आगाज भी. नई, बदली और आम आदमी की राजनीति का। आम आदमी पार्टी [आप] के जीतने वाले 28 विधायकों में 26 बरस की राखी बिरला और 25 वर्षीय प्रकाश जैसे चेहरे शामिल हैं जो सार्वजनिक जीवन में नौसिखिए हैं।

आप के इन उम्मीदवारों की जादुई जीत को समझना हो तो अंबेडकर नगर इलाके के 28 साल के रवि की बात सुनिए। चुनाव नतीजों के बाद रवि खुश तो है। मगर उसे सिर्फ इतना पता है कि उसने अरविंद केजरीवाल को जिताने के लिए झाड़ू पर वोट दिया था। दिल्ली में आप के चुनाव चिह्न झाड़ू पर चुनाव लड़ने वाले 69 में से एक भी उम्मीदवार ने इससे पहले विधानसभा का चुनाव नहीं लड़ा था। सिर्फ एक ने पहले लोकसभा का चुनाव लड़ा था। पांच ऐसे हैं जो पुराने फार्मूलों पर पहले एमसीडी के चुनाव लड़ चुके हैं।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना