CAB Protests: नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act 2019) के खिलाफ प्रदर्शन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि यह विरोध प्रदर्शन दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है। विरोध और चर्चा, लोकतंत्र का हिस्सा है, लेकिन सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाना सही नहीं है। नागरिकता संशोधन अधिनियम, 2019 संसद के दोनों सदनों द्वारा भारी समर्थन के साथ पारित किया गया था। बड़ी संख्या में राजनीतिक दलों और सांसदों ने इसका समर्थन किया। यह अधिनियम भारत की सदियों पुरानी संस्कृति को दर्शाता है, जिसका आधार स्वीकृति, सद्भाव, करुणा और भाईचारा है। मैं देशवासियों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि CAA किसी भी धर्म के भारत के नागरिक को प्रभावित नहीं करता है। किसी भारतीय को चिंता करने की कोई बात नहीं है। यह अधिनियम केवल उन लोगों के लिए है, जिन्होंने वर्षों से उत्पीड़न का सामना किया है और भारत को छोड़कर उनके पास जाने के लिए कोई अन्य जगह नहीं है।

इस बीच, रविवार के उग्र प्रदर्शन के बाद सोमवार को दिल्ली की जामिया (Jamia) यूनिवर्सिटी में शांति है, लेकिन पूरे मामले पर राजनीति तेज हो गई है। भाजपा यहां हिंसा के लिए आम आदमी पार्टी के एक विधायक के भड़काऊ भाषण को दोषी ठहरा रही है, वहीं अरविंद केजरीवाल सरकार का कहना है कि केंद्र सरकार के इशारे पर दिल्ली का यह हाल हुआ है। वहीं कांग्रेस भी मोदी सरकार पर निशाना साध रही है। प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि सरकार को छात्रों की बात सुनना होगी। पढ़ें पूरी बयानबाजी -

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, 'देश के विश्वविद्यालयों में घुस घुसकर विद्यार्थियों को पीटा जा रहा है। जिस समय सरकार को आगे बढ़कर लोगों की बात सुननी चाहिए, उस समय भाजपा सरकार उत्तर पूर्व, उत्तर प्रदेश, दिल्ली में विद्यार्थियों और पत्रकारों पर दमन के जरिए अपनी मौजूदगी दर्ज करा रही है। यह सरकर कायर है। जनता की आवाज़ से डरती है। इस देश के नौजवानों, उनके साहस और उनकी हिम्मत को अपनी खोखली तानाशाही से दबाना चाहती है। यह भारतीय युवा हैं, सुन लीजिए मोदी जी, यह दबेगा नहीं, इसकी आवाज़ आपको आज नहीं तो कल सुननी ही पड़ेगी।'

दिल्ली के डिप्टी सीएम और आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया ने कहा, भाजपा चुनाव में हार के डर से हिंसा फैला रही है और दिल्ली को आग के हवाले कर दिया है। आम आदमी पार्टी किसी भी तरह की हिंसा के खिलाफ है।

दिल्ली भाजपा के प्रमुख मनोज तिवारी ने कहा, आम आदमी पार्टी ने अपने विधायक अमानतुल्लाह खान की मदद से हिंसा भड़काई है। क्या केजरीवाल बता सकते हैंं कि जहां हिंसा भड़की वहां आम आदमी पार्टी के लोग क्या कर रहे थे?

कांग्रेस नेता सलमान खुर्शिद ने जामिया कैंपस में पुलिस के घुसने पर आपत्ति लगाई और कहा कि पुलिस ने जाते समय वीसी को बतााय कि वे जा रहे हैं, जबकि प्रवेश से पहले भी अनुमति लेना चाहिए।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020