देश में कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। राजधानी दिल्ली में भी बड़ी तादाद में कोरोना मरीज मिल रहे हैं। इस बीच प्राइवेट हॉस्पिटलों में इलाज करा रहे मरीजों को मोटा बिल थमाया जा रहा है। इसे देखते हुए केंद्र सरकार के पास प्राइवेट हॉस्पिटल की इलाज दरों को दो तिहाई कम करने की सिफारिश सिफारिश की गई थी, जिसे केंद्र ने स्वीकार कर लिया है। बता दें कि फिलहाल दिल्ली में निजी अस्पताल आइसोलेशन बेड के लिए 24 से 25 हजार रुपए प्रतिदिन के हिसाब से चार्ज कर रहे हैं। ये दरें उन कोविड हॉस्पिल्स की हैं जहां कोरोना मरीजों का इलाज किया जा रहा है।

मरीजों को राहत देने के लिए वीके पॉल कमेटी की सिफारिश को केंद्र सरकार ने मान लिया है। इसके बाद कोरोना मरीज को रोजाना इलाज के लिए 24 से 25 हजार के बजाय 8 से 10 हजार रुपए इलाज का खर्च आएगा।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक वर्तमान में बिगड़े हालातों को देखते हुए कई अस्पताल बिना वेंटिलेटर वाले ICU के लिए मरीजों से प्रतिदिन 34 हजार से 43 हजार रुपए तक भी वसूले जा रहे हैं। वहीं वेंटिलेटरवाले आईसीयू के लिए 44 हजार से 54 हजार रुपए तक लिए जा रहे हैं।

ये है नई रेट लिस्ट

केंद्र सरकार की मंजूरी के बाद जारी नए आदेश के अनुसार बिना वेंटिलेटर वाले ICU के लिए कोरोना संक्रमितों को अब 13 हजार से 15 हजार रुपये और वेंटिलेटर के साथ वाले आईसीयू के लिए 15 से 18 हजार रुपये रोजाना के हिसाब से भुगतान करना होगा। इसमें पीपीई किट भी शामिल है।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना