नई दिल्ली। दिल्ली कैंट स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल कोविड केयर सेंटर का केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज उद्घाटन किया। इस अवसर पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भी मौजूद रहे। अस्पताल के वार्डों के नाम गलवन घाटी के शहीदों के नाम पर रखे गए है। इस अस्थाई अस्पताल में कोरोना मरीजों के लिए एक हजार बेड का इंतजाम किया गया है। जबकि 250 आइसीयू बेड भी उपलब्ध है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि डीआरडीओ, गृह मंत्रालय और कई संगठनों के सहयोग से कोरोना मरीजों के लिए एक हजार बेड वाले अस्थाई अस्पताल को केवल 12 दिनों में बनाया है। यहां पर 250 ICU बेड भी उपलब्ध हैं।

वहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के अस्पतालों में बेड की फिलहाल कोई कमी नही है। वर्तमान में हमारे पास 15,000 से अधिक बेड हैं, जिनमें से 5300 बेड पर मरीजों का इलाज जारी है। आईसीयू बेड हमारे लिए काफी अहम हैं। यदि आने वाले समय में कोरोना के केस नहीं बढ़े तो यह बड़ी राहत की बात होगी।

इस मौके पर डीआरडीओ के अध्यक्ष जी सतीश रेड्डी ने बताया कि ये अस्पताल सभी सुविधाओं से लैस है और साथ ही सेना के जवान अपनी सेवाएं 24 घंटे प्रदान करेंगे। रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) ने कोरोना के खिलाफ लड़ने के लिए अब तक 70 मेड इन इंडिया प्रोडक्ट्स का निर्माण किया है। यदि जरूरत पड़ी तो हम हर महीने करीब 25,000 वेंटिलेटर का निर्माण कर सकते हैं। हम इनको निर्यात करने के लिए भी तैयार हैं।

दिल्ली में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने पिछले महीने लगातार कई बैठकों का आयोजन किया था। अमित शाह दिल्ली के लोगों में सिस्टम पर भरोसा कायम कराने में कामयाब रहे। 14 जून के पहले और बाद में कोरोना को लेकर हुए दिल्ली में हालात के अंतर को स्पष्ट देखा जा सकता है। कोरोना की टेस्टिंग से लेकर मरीजों के इलाज और मरने वालों के अंतिम संस्कार को लेकर मची अफरातफरी के माहौल के बीच इसी दिन अमित शाह ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, उपराज्यपाल अनिल बैजल सहित वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की थी।

Posted By: Yogendra Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020