नई दिल्ली। दिल्ली में खतरनाक स्तर तक पहुंचे वायु प्रदूषण से सोमवार को लोगों को कुछ राहत मिली है। 12 दिनों बाद राज्य में सबसे कम वायु प्रदूषण दर्ज किया गया है। हालांकि जानकारों का मानना है कि यह स्थिति ज्यादा वक्त तक नहीं बनी रहेगी। एक्सपर्ट्स ने गुरुवार तक एक बार फिर दिल्ली NCR में वायु प्रदूषण को 'बेहद खराब' स्तर तक पहुंचने की आशंका जताई है। दिल्ली NCR में लगातार हवा चलने की वजह से प्रदूषण में कमी आना बताया गया है। साथ ही जैसे जैसे हवा की रफ्तार में गिरावट दर्ज होगी वैसे वैसे एक बार फिर वायु प्रदूषण बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। मंगलवार को दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 218 रहा जो सोमवार को समान समय में 211 था।

सोमवार को देश की एयर क्वालिटी इन्फॉर्मेशन सर्विस SAFAR द्वारा जारी किए गए बुलेटिन में कहा गया था कि 'जैसा कि अनुमान लगाया गया था पूरी दिल्ली के AQI में सुधार आया है। लेकिन, यह राहत थोड़े समय की ही है। कल से हवा की रफ्तार धीमी होने लगेगी और यह 20 और 21 नवंबर को बहुत ठंडी रह सकती है।' जारी बुलेटिन में 21 नवंबर से एक बार फिर पूरे इलाके में वायु प्रदूषण बढ़ने की बात कही गई है।

दिल्ली प्रदूषण का मुद्दा लोकसभा में उठेगा

दिल्ली में बढ़े हुए वायु प्रदूषण का मुद्दा आज लोकसभा में उठ सकता है। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी और बीजू जनता दल (BJD) के पिंकी मिश्रा शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन दिल्ली के प्रदूषण का मुद्दा संसद में उठाएंगे। इस मुद्दे पर दोपहर में लोकसभा में चर्चा हो सकती है।

केजरीवाल ने कहा ऑड-ईवन की जरुरत नहीं

दिल्ली में ऑड ईवन स्कीम को जारी नहीं रखा जाएगा। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की वायु में सुधार आया है। ऐसे में सरकार द्वारा ऑड ईवन फॉर्मूले को आगे नहीं बढ़ाया जाएगा।

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket