नई दिल्ली। Delhi Air Pollution: देश की राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण की वजह से जिंदगी पटरी से उतर गई है। यहां हवा में इतना जहर घुल गया है कि पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित करना पड़ी है। केजरीवाल सरकार ने राज्य में प्रदूषण को कम करने के लिए 4 नवंबर से 15 नवंबर के बीच ऑड इवन फॉर्मूले को लागू करने का निर्णय लिया है। इसके तहत एक दिन सिर्फ इवन नंबर की गाड़िया और दूसरे दिन सिर्फ ऑड नंबर की गाड़ियां ही सड़कों पर चल सकेंगी। इस योजना के लागू रहने के दौरान दिल्ली गवर्नमेंट ने सरकारी दफ्तरों के वक्त में भी बदलाव किया है। इस वक्त के दौरान सरकारी दफ्तर दो शिफ्ट में चलाए जाएंगे। सरकार द्वारा जारी आदेश के मुताबिक ऑड इवन योजना लागू रहने के दौरान 21 विभाग जहां सुबह 9.30 बजे से शाम 6 बजे तक संचालित होंगे, वहीं 21 अन्य विभाग सुबह 10.30 बजे से शाम 7 बजे तक संचालित किए जाएंगे।

दिल्ली में शनिवार को भी प्रदूषण से लोगों को राहत नहीं मिल सकी है। दिल्ली के ज्यादातर इलाकों में बेहद खराब स्थिति में प्रदूषण को मापा गया। ज्यादातर इलाकों में घनी धुंध छाई हुई है। एयर क्वालिटी इंडेक्स डेटा के मुताबिक लोधी रोड इलाके में हालत सबसे ज्यादा खराब रही है।

पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी हुई लागू

दिल्ली में वायु प्रदूषण से हालात किस कदर खराब हैं इसका इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि दिल्ली-NCR में पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दी गई है। लोगों को सुबह के वक्त जॉगिंग और मॉर्निंग वॉक ना करने की सलाह दी गई है। सरकार ने बढ़े हुए पॉल्यूशन लेवल की वजह से 5 नवंबर तक के लिए सभी स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी है। वहीं राज्य में चल रहे सभी निर्माण कार्यों पर 5 नवंबर तक के लिए रोक लगा दी है।

Posted By: Neeraj Vyas