नई दिल्ली। दिल्ली में वकीलों और दिल्‍ली के पुलिसकर्मियों के बीच हुआ विवाद काफी तूल पकड़ चुका है। मंगलवार को जहां पुलिसकर्मियों ने PHQ के बाहर विरोध प्रदर्शन किया था। वहीं वकीलों की आज भी हड़ताल जारी है। रोहिणी कोर्ट के बाहर वकीलों का हंगामा जारी है। वहीं कड़कड़डूमा कोर्ट के बाहर भी प्रदर्शन किया जा रहा है। साकेत कोर्ट के बाहर भी वकीलों द्वारा हंगामा किया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रोहिणी कोर्ट में एक वकील ने खुदकुशी करने की कोशिश भी की है। हड़ताल कर रहे वकील पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं। इतना ही नहीं वकीलों ने पटियाला हाउस कोर्ट का गेट बंद कर दिया। जानिये Delhi Lawyers Protest से जुडे Updates

- वकीलों के समर्थन में आया बार काउंसिल, बार काउंसिल अध्यक्ष मनन मिश्रा ने कहा पुलिसवालों का प्रदर्शन दुखद। वकीलों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी।

- दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक और ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर राजेश खुराना वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ उप राज्यपाल अनिल बिंजल के साथ बैठक करने उनके निवास पर पहुंचे हैं।

Supreme Court वकील ने भेजा पुलिस कमिश्नर को नोटिस

मंगलवार को पुलिसकर्मियों द्वारा पीएचक्यू के बाहर प्रदर्शन किए जाने के बाद वकीलों ने इसे लेकर दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक को कानूनी नोटिस भेज दिया है। विभिन्न धाराओं का हवाला देते हुए नोटिस में प्रदर्शनकारी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई ना करने पर सवाल खड़ा किया गया है।

वकील-पुलिस झड़प में हुए थे कई घायल

2 नवंबर को तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच पार्किंग को लेकर विवाद हो गया था। यह विवाद इतना बढ़ गया था कि दोनों पक्षों में जमकर झड़प हो गई थी। इस झड़प में 20 पुलिसकर्मी और 8 वकील घायल हो गए थे। एक वकील को गोली भी लगी थी। इसके बाद से ही दोनों पक्षों के बीच जमकर घमासान मचा हुआ है। मामला इतना बढ़ गया है कि गृह मंत्रालय को दिल्ली सरकार से रिपोर्ट तलब करना पड़ी है।

Posted By: Neeraj Vyas