नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में प्रदूषण को काबू में करने के लिए एक बार फिर वाहनों पर ऑड-इवन फॉर्मूला लागू होने जा रहा है। 4 नवंबर से एक बार फिर राजधानी में वाहनों पर ऑड इवन फॉर्मूला लागू होगा। सूबे के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस लेकर इस संबंध में जानकारी दी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 'ऑड-इवन' से महिलाओं को छूट दी जाएगी। कोई भी गाड़ी जिसमें महिला बैठी हो उस वाहन को ऑड इवन फॉर्मूले से छूट मिलेगी। बता दें कि सीएम केजरीवाल ने 13 सितंबर को प्रेस कांफ्रेस लेकर 4 नवंबर से राज्य में ऑड इवन फॉर्मूला लागू किए जाने की घोषणा की थी।

पूर्व में की गई घोषणा के मुताबिक चार नवंबर को ऑड नंबर की गाड़िया चलेंगी, वहीं 5 नवंबर को इवन नंबर की गाड़ियां चलेंगी। प्रदूषण को लेकर शिकायतें करने के लिए वॉर रूम बनाए जाने की भी केजरीवाल ने घोषणा की थी।

CM केजरीवाल ने कही यह बात

सूबे के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली सचिवालय में आज बैठक ली। इस दौरान राज्य में बढ़ रहे प्रदूषण और ऑड इवन मुद्दे पर भी चर्चा की गई।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि सभी के सहयोग से दिल्ली में प्रदूषण अब कम होने लगा है। इसमें केंद्र सरकार, नगर निगम और दिल्ली सरकार के साथ ही जनता का भी बड़ा सहयोग है। केजरीवाल ने कहा कि दूसरे राज्यों में पराली जलाने की वजह से दिल्ली में धुआं आ रहा है, इससे एक बार फिर प्रदूषण बढ़ने लगा है। ऐसे में केजरीवाल ने आसपास के राज्यों से अपील भी करते हुए कहा कि पराली ना जलाएं।

ऑड इवन में छूट को लेकर सीएम केजरीवाल ने कहा कि इसे लेकर परिवहन विभाग से जानकारी मांगी थी। उनसे चर्चा के बाद महिलाओं को छूट देने का निर्णय लिया गया। हालांकि प्राइवेट सीएनजी कार को दिल्ली सरकार छूट नहीं देगी। दो पहिया वाहनों को लेकर दिल्ली सरकार द्वारा अभी कोई फैसला नहीं किया गया है। दिल्ली में सुबह 8 बजे से लेकर रात 8 बजे तक ऑड इवन फॉर्मूला लागू होगा।

Posted By: Neeraj Vyas