Delhi Unlock 3.0 Guidelines: राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस को काबू करने की तमाम कोशिशें की जा रही हैं। सरकार की कोशिश है कि आम आदमी को राहत देने के लिए नियमों में ढील दी जाए, साथ ही महामारी को रोकने के लिए भी प्रयास जारी रखे जाएं। राजधानी से ताजा खबर यह है कि यहां कंटेनमेंट झोन की संख्या लगातार बढ़ रही है। इस बीच, आज से साप्ताहिक हाट बाजार खोलने का ट्रायल शुरू हो रहा है। इसके लिए गाइडलाइन जारी कर दी गई है।

बीते 24 घंटे में ही 36 नए कंटेनमेंट जोन बढ़ गए हैं। इसी तरह पिछले 22 दिनों में राजधानी में 493 नए कंटेनमेंट जोन सामने आए हैं। ताजा आंकड़ों के अनुसार, इस समय दिल्ली के दक्षिण-पश्चिमी जिले में सबसे ज्यादा 143 और उत्तर-पूर्वी जिले में सबसे कम 20 कंटेनमेंट जोन हैं। अब तक दिल्ली में 1458 कंटेनमेंट जोन बन चुके हैं। इनमें से 831 सील क्षेत्रों को खोला जा चुका है, जिसके बाद अभी 627 एक्टिव कंटेनमेंट जोन हैं।

साप्ताहिक बाजार खोलने को लेकर यह रहेंगे नियम

दिल्ली नगर निगम ने सोमवार से ट्रायल के तौर पर बाजार खोलने की अनुमति दे दी। निगम ने चारों जोन में 25 साप्ताहिक बाजारों को नियमों का पालन करते हुए खोलने की अनुमति दी है। शारीरिक दूरी और महामारी अधिनियम के तहत तय किए गए नियमों का पालन करवाया जा रहा है। प्रत्येक बाजार का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। बाजार के लाइसेंसिंग इंस्पेक्टर को हिदायत दी गई है कि वह नियमों के पालन की पूरी रिपोर्ट प्रतिदिन के आधार पर मुख्यालय में भेजें।

जिन बाजारों को लगने की अनुमति दी गई है उसमें प्रत्येक पटरी में 6-6 फिट की दूरी होने चाहिए। वहीं खरीददार और दुकानदार के बीच शारीरिक दूरी के नियम का पालन हो यह भी सुनिश्चित करना होगा। दुकानदार के साथ ही खरीददार या बाजार में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को मास्क लगाना अनिवार्य है। अगर, कोई बीमार व्यक्ति सामने आता है तो उसे आइसोलेट करना पड़ेगा।

वहीं, बाजार कहां से कहां तक लगेगा, यह सुनिश्चित करना लाइसें¨सग इंस्पेक्टर का जिम्मेदारी होगी। सार्वजनिक स्थल पर थूकने पर पूरी तरह से प्रतिबंध होगा। उल्लेखनीय है कि 24 से 30 अगस्त तक दिल्ली में साप्ताहिक बाजारों को लगाने के लिए ट्रायल चलेगा। इस ट्रायल के जो परिणाम होंगे उसके आधार पर ही साप्ताहिक बाजार लगने और न लगने पर स्थिति साफ होगी।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close