Delhi Violence: दिल्ली के दंगों ने कई घरों की खुशियां छीन ली हैं तो वहीं कई लोग अपनों से बिछड़ गए हैं। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान परीक्षा देने गई 13 साल की 8वीं की छात्रा सोमवार से घर नहीं लौटी है। वह खजूरी खास इलाके में एक्जाम देने गई थी। परिवारवाले उसके लापता होने की जानकारी भी पुलिस को दे चुके हैं। लापता छात्रा सोनिया विहार इलाके में रहती है। वह बीते सोमवार को सुबह अपने घर से 4.5 किलोमीटर दूर स्थित परीक्षा केंद्र में एक्जाम देने गई थी लेकिन उसके बाद से ही वह लापता है। लड़की के पिता ने कही यह बात

लड़की के पिता रेडिमेट गारमेंट्स का कामकाज करते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने बताया कि 'मैं उसे स्कूल से शाम को 5.30 बजे लेने जाने वाला था। लेकिन मैं हमारे इलाके में दंगा भड़कने की वजह से वहां नहीं जा सका था। तभी से मेरी बेटी लापता है।'

वहीं, पुलिस का कहना है कि परिवारवालों द्वारा लड़की की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराने के बाद उसकी तलाश शुरू कर दी गई है।

एक अन्य परिवार के 2 सदस्य लापता

विजय पार्क में रहने वाले एक अन्य शख्स का कहना है कि उसके परिवार के सदस्य शिव विहार स्थित घर में 2 दिन तक फंसे रहे थे। वे भी मंगलवार रात से लापता हैं। शख्स ने बताया कि 'मेरा एक घर शिव विहा में है जो कि मेदिना मस्जिद के नजदीक है। मेरे दो बच्चे वहां रहते हैं, दो अन्य बच्चे मेरे साथ विजय पार्क में रहते हैं। इलाके में दंगा भड़कने के बाद में उन तक नहीं पहुंच सका और उनसे मेरा संपर्क टूट गया है।'

उन्होंने कहा कि 'उन्होंने बुधवार को मुझे बताया था कि भीड़ ने घर को घेर लिया था, वे लोग जैसे तैसे भागने में कामयाब रहे थे लेकिन तब से लेकर अब तक उनका कोई सुराग नहीं लगा है। इलाके में तनाव बना हुआ है और मेरी पुलिस से अपील है कि हमारी मदद करें।'

गौरतलब है कि नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के मंजूपुर, जाफराबाद, बारबरपुर, यमुना विहार, शिव विहार, भजनपुरा, चांदबाग, गोंडा सहित अन्य इलाकों में भड़की हिंसा में अब तक 35 लोगों की मौत हो चुकी है।

Posted By: Neeraj Vyas