Delhi Violence Live Updates: राजधानी दिल्ली में हालात तेजी से सामान्य हो रहे हैं। वहीं सोमवार को मरने वालों का आंकड़ा 46 पहुंच गया। इनमें से 38 लोगों की मौत गुरु तेग बहादुर हॉस्पिटल में हुई है, वहीं एलएनजेपी में 3 की जान गई है। एक पीड़ित ने जग प्रवेश चंदर हॉस्पिटल तो 4 ने डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में दम तोड़ा है। इस बीच, पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने केंद्र सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है। उनका कहना है कि सरकार ने हिंसा रोकने की कोशिश नहीं की। उनकी नजर में दिल्ली हिंसा पूरी तरह से सुनियोजित थी और हिंसा के समय सरकार सोती रही।

अफवाहों में गुजरी बीती रात

इससे पहले बीती रात अफवाहों का भारी दौर चला। हालांकि पुलिस ने पूरी मुस्तैदी से मोर्चा संभाला और लोगों को बताया कि वे अफवाहों पर ध्यान दें। 7 मेट्रो स्टेशनों को एहतियातन बंद कर दिया गया। शाम 7.30 बजे से रात 9.30 बजे तक 3 दर्जन से ज्यादा स्थानों पर दंगा और सांप्रदायिक तनाव फैलने की अफवाह फैली। लोगों ने घरों के दरवाजे बंद कर लिए। बाजारों में दुकानें व मॉल बंद होने लगे। लोग मॉल से बाहर निकलने के लिए भागदौड़ करने लगे। 1 घंटे बाद माहौल शांत हुआ। इस बीच, रात में शाहीन बाग में अचानक तनाव बढ़ गया। धरना स्थल के आसपास धारा 144 लागू करने के साथ भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई। पढ़िए Delhi Violence से जुड़ी हर अपडेट -

दिल्ली में सुबह शांति

रविवार रात अफवाहों से दहली दिल्ली सोमवार सुबह पूरी तरह शांंत है। सभी मेट्रो स्टेशन खुले हैं। हिंसा ग्रस्त इलाकों में भी जनजीवन सामान्य नजर आ रहा है। पुलिस हालात पर नजर बनाए हुए। लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील लगातार की जा रही है।

शाहीन बाग प्रदर्शनकारियों में हड़कंप

कुछ संगठनों ने शाहीन बाग में चल रहे धरने के खिलाफ 1 मार्च को प्रदर्शन का आह्वान किया था। हालांकि बाद में उन्होंने अपनी अपील वापस ले ली थी, लेकिन एहतियातन पुलिस ने शाहीन बाग के आस-पास के इलाके में धारा 144 लागू कर दी। साथ ही, काफी संख्या में पुलिस और अर्द्धसैनिक बल के जवान तैनात कर दिए गए। इससे धरने पर बैठे लोगों ने खलबली मच गई।

मृतक संख्या 44 पहुंची

रविवार को गोकलपुर मेट्रो की पुलिया के पास नाले से दो शव और मिलने के बाद मरने वालों की संख्या 44 पहुंच गई है। अब तक 903 आरोपित पकड़े गए हैं और 254 एफआइआर दर्ज की गई हैं।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना