नई दिल्ली। उत्तरी जिले के बुराड़ी थाना अंतर्गत बापानगर में एक युवक ने मंगलवार सुबह तीसरी मंजिल से छलांग लगाकर खुदकशी कर ली। बताया जाता है कि विदेश में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुके नवदीप (25) ने मोक्ष की तलाश में यह कदम उठाया। उन्होंने सोमवार रात नींद की काफी गोलियां भी खाई थीं। कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है।

नवदीप ने कोलकाता से बीटेक और स्विट्जरलैंड से एमटेक करने के बाद एक साल नौसेना में भी नौकरी की, जिसे जून 2017 में छोड़ दिया था। पुलिस के अनुसार वह पिछले कई दिनों से मोबाइल फोन पर गूगल पर मोक्ष प्राप्ति के साथ-साथ मरने के तरीके तलाश रहे थे।

अबुधाबी (दुबई) में रह रही मां से भी इस बारे में जिक्र किया था। मूलरूप से बिहार के बेगूसराय निवासी नवदीप नौसेना की नौकरी छोड़कर रंजीत नगर में किराए पर रह रहे थे।

पिता दिल्ली में बिजली विभाग में अधीक्षण अभियंता थे और बाद में अबुधाबी चले गए और वहां की सरकार के सलाहकार बन गए।

नवदीप का छोटा भाई भी अबुधाबी में रहता है। पुलिस के अनुसार एक हफ्ते से नवदीप आध्यात्मिक बातें कर रहे थे और अनिद्रा के शिकार थे।

उनकी मां ने बापानगर निवासी रिश्ते के भाई से इस बारे में बात कर नवदीप को अबुधाबी लाने को कहा। 31 दिसंबर को नवदीप के मामा उन्हें घर ले आए, मगर वह मानसिक तनाव में थे।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना