नई दिल्ली। अपनी एक्स-गर्लफ्रेंड की एक शख्स से करीबी 26 साल युवक को बर्दाश्त नहीं हुई तो उसने उस शख्स को फंसाने के लिए खुद को गोली मार ली और उसका नाम ले लिया। यह घटना पश्चिम दिल्ली के मादीपुर इलाके में हुई। घायल युवक की पहचान गुलाम साबिर के रूप में हुई है जिसे एक अस्पताल में भर्ती कराया गया और उसका इलाज चल रहा है।

साबिर ने कथित तौर पर पुनीत को उस महिला से दूर रखने की कोशिश में साजिश रची, जिसने हाल ही में साबिर से संबंध तोड़ लिया था। सोमवार को, पुलिस को सूचित किया गया कि साबिर को एक व्यक्ति ने गोली मार दी है, जिसकी उसके साथ व्यक्तिगत दुश्मनी थी।

एक रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की और मामले की जांच शुरू की। प्रारंभिक जांच के दौरान, पुलिस ने एक पुनीत को गिरफ्तार किया, जो साबिर की पूर्व प्रेमिका से दोस्ती कर रहा था।


साबिर ने पुलिस को यह भी बताया कि पुनीत ने उसे गोली मार दी थी क्योंकि उसने लड़की के साथ उसके रिश्ते पर आपत्ति जताई थी। साबिर के बयान और सीसीटीवी कैमरों को स्कैन करने के बाद, पुलिस ने पुनीत को मामले में एक संदिग्ध के रूप में हिरासत में लिया।

लेकिन जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ी, पुलिस ने साबिर के बयान में कई विरोधाभास पाए। पुलिस के अनुसार, साबिर के ठिकाने के सीसीटीवी फुटेज और टेक्निकल सर्विलेंस में चीजें कुछ और नजर आई।

विभिन्न विरोधाभासों के बाद, पुलिस ने तब साबिर को उसके दावों को लेकर पूछताछ बढ़ाई। बाद में, वह टूट गया और उसने पुलिस को बताया कि उसने अपने दोस्तों की मदद से खुद को गोली मारकर पुनीत को फंसाने की साजिश रची थी।

साबिर ने पुलिस को बताया कि वह पुनीत के साथ लड़की की निकटता से परेशान था और उसे सबक सिखाने का फैसला किया। साबिर के मुताबिक, लड़की ने हाल ही में उससे संबंध तोड़ लिया और पुनीत के साथ डेटिंग करने लगी।

सोमवार को, साबिर ने पुनीत से उसके घर पर मुलाकात की और उसे लड़की से अलग होने के लिए कहा, लेकिन पुनीत ने मना कर दिया और अपने घर से चला गया।

पुनीत के इनकार से परेशान होकर, साबिर ने अपने दोस्तों से कहा कि वह उसकी कमर में पिस्तौल रखकर गोली मार दे, जिसके बाद उसे गुरु गोविंद सिंह अस्पताल ले जाया गया। जबकि साबिर के दोस्तों ने पुलिस को फोन करके उन्हें घटना की जानकारी दी।

पुलिस ने साबिर और उसके दो दोस्त अजहरुद्दीन और प्रद्युम्न सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।