नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पूर्व विधायक राशिद इंजीनियर को दिल्ली कोर्ट ने 14 अगस्त तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया है। राशिद पर टेटर फंडिग में कनेक्शन होने का आरोप है। शनिवार को दिल्ली का पटियाला हाउस कोर्ट ने ये आदेश सुनाया। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने कश्मीर के इस पूर्व विधायक को टेरर फंडिंग मामले में गिरफ्तार किया था। आज राशिद को इसी मामले में कोर्ट में पेश किया गया था।

इससे पूर्व एनआईए ने बीते रविवार को भी राशिद इंजीनियर से टेटर फंडिंग के एक मामले में पूछताछ की थी। वहीं शुक्रवार को राशिद को गिरफ्तार किया गया था। राशिद जम्मू-कश्मीर के लंगेट विधानसभा से विधायक रहे थे।

टेरर फंडिंग पर NIA कस रही शिकंजा

घाटी में आतंकवादियों की कमर तोड़ने के लिए NIA लगातार कार्रवाई कर रही है, बीते दिनों भी टीम ने श्रीनगर और बड़गाम में छापे मारे थे। इस दौरान पुलवामा और श्रीनगर में क्रॉस एलओसी ट्रेड से जुड़े व्यापारियों पर कार्रवाई करते हुए उनसे लेन देन के दस्तावेज जब्त किए गए थे।

इसके लगभग एक हफ्ते बाद एनआईए ने उत्तर कश्मीर के बारामूला में अलगाववादी नेता सज्जाद लोन के करीबी व्यापारियों आसिफ लोन, तनवीर अहमद, तारिक अहमद और बिलाल भट के घर पर छापा मारा था।

इसके अलावा टेटर फंडिंग रोकने के लिए NIA ने साल की शुरुआत में देश के कई राज्यों में एक साथ छापे मारते हुए तलाशी ली थी।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना