नोएडा। दो लाख से अधिक लोगों से अरबों की धोखाधड़ी करने वाली कंपनी गर्वित इनोवेटिव प्रमोटर्स लिमिटेड यानी बाइक बोट के कथित CEO तरुण शर्मा को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

नोएडा आर्थिक अपराध शाखा की स्पेशल इंवेस्टीगेशन टीम ने उसे बरौला टी प्वाइंट से पकड़ा। SSP गौतमबुद्ध नगर वैभव कृष्ण ने बताया कि बाइक बोट मामले में कंपनी के कथित सीईओ की गिरफ्तारी हुई है।

पुणे से किया है एमबीए

नई दिल्ली के विकासनगर निवासी तरुण शर्मा ने पुणे के एक कॉलेज से एमबीए किया है। वह 2018 में जीआइपीएल में 80 हजार प्रतिमाह पर सीईओ नियुक्त हुआ था।

वह बाइक ऑपरेशन का काम देखता था। मीडिया सेल के अनुसार कंपनी ने तरुण शर्मा को नियुक्ति-पत्र जारी नहीं किया था। बाइक बोट कंपनी में काम करने से पहले उसने आइटी जैक्स ग्लोबल कंपनी बनाई थी, जो बंद हो गई थी।