राजधानी Delhi में बड़ी आतंकी साजिश नाकाम की गई है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एनकाउंटर के बाद दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी संगठन ISIS यानी इस्लामिक स्टेट के आतंकी अबु यूसुफ को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है। चौंकाने वाली बात यह है कि अबु यूसुफ के पास से दो आईईडी बम मिले हैं। यानी आतंकी यहां बड़ी साजिश को अंजाम देने की फिर में थे। देर रात दिल्ली के धौला कुआं इलाके में अबु यूसुफ को पकड़ा गया। पुलिस को देखकर उसने फायरिंग शुरू कर दी थी। जवाब में पुलिस की ओर से भी फायरिंग की गई। आखिर में आतंकी पकड़ा गया। पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है। अधिकारियों का मानना है कि अबु के साथ कुछ और लोग भी हो सकते हैं।

पूछताछ में आतंकी ने चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। आतंकी अफगानिस्तान में बैठे अपने आकाओं से सम्पर्क में था और अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का बदला लेना चाहता था।

शुरुआती जांच में पता चला है कि यह एक लोन वुल्फ अटैक था। यानी रेकी करने के बाद एक ही आतंकी हमले को अंजाम देता और ज्यादा से ज्यादा नुकसान पहुंचाने की कोशिश करता। इस आतंकी को भारत के बाहर से निर्देश मिल रहे हैं। माना जा रहा है कि यह नेपाल के रास्ते भारत में घुसा।

आर्मी पब्लिक स्कूल से दो किमी दूर यह पूरी वारदात हुई है। आईईडी को डिफ्यूज करने के लिए बम स्क्वाड दस्ता बुलाया गया है। एनएसजी के एक्सपर्ट में मौके पर है। अभी अबु उर्फ अब्दुल यूसुफ को दिल्ली स्पेशल सेल के दफ्तर में रखा गया है और उससे पूछताछ की जा रही है। पूरे दिल्ली एनसीआर को अलर्ट पर रखा गया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में है, जहां छापा मारा जा रहा है।

अंबाला, अयोध्या व दिल्ली समेत कई शहरों को उड़ाने की धमकी

इससे पहले शुक्रवार को ही अंबाला में अयोध्या, दिल्ली समेत अन्य शहरों में आतंकी हमला की धमकी वाला खत मिला है। काले पेन से हिंदी में लिखी दो पेज की चिट्ठी ने पुलिस और खुफिया एजेंसियों को अलर्ट कर दिया। पाकिस्तान से तार जोड़ते हुए हिंदुस्तान के अंबाला, अयोध्या, पंजाब और दिल्ली में करीब बारह बम धमाके होने का जिक्र पत्र में किया गया है। यह भी लिखा गया है कि इसके लिए 25 करोड़ रुपए पाकिस्तान से आए हैं।

पत्र लिखने वाली मोनिका का दावा है कि यह जानकारियां उसे खुफिया तंत्र से मिली हैं। इसमें कई अधिकारियों की मिलीभगत है। कुछ लोगों के पत्र में नाम और मोबाइल नंबर दिए गए हैं।

चिट्ठी में दावा किया गया है कि धमाका 15, 17, 21, 25 और 29 अगस्त को होगा। पत्र में यमुनानगर में जिस व्यक्ति का नाम लिया गया है, पुलिस ने उससे पूछताछ कर ली है। पुलिस की प्रारंभिक जांच में इस बिजनेसमैन का पत्र से कोई लेना देना नहीं पाया गया है।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close