नई दिल्ली। दिल्ली में खराब होती जा रही हवा को देखते हुए ऑड-ईवेन कभी भी लागू हो सकता है। दिल्ली सरकार ने बुधवार को कहा कि शहर में खराब हवा की गुणवत्ता का बेहतर करने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे।

परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बुधवार को कहा कि दिल्ली सरकार ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान (जीआरएपी) के अनुसार उपायों को लेकर गंभीर है, जिसमें ऑड ईवेन को लागू करना भी शामिल है। मंत्री ने कहा कि उन्हें ऑड ईवेन को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) से कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है।

ऑड-ईवेन में एक दिन ऑड (विषम) और दूसरे दिन इवेन (सम) नंबर के वाहन चलाए जाने की व्यवस्था है। ऑड-ईवेन गाड़ी के नंबर की आखिरी संख्या से तय होगा। बुधवार को हवा की गति कुछ बढ़ी तो दिल्ली एनसीआर के प्रदूषण स्तर में भी थोड़ा सुधार नजर आया।

हालांकि लोगों को इस सुधार से कुछ खास राहत का एहसास नहीं हुआ। आठ से दस किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने का ही नतीजा रहा कि वायु प्रदूषण का स्तर खतरनाक से बेहद खराब श्रेणी में पहुंच गया। सीपीसीबी के अनुसार मंगलवार को दिल्ली का जो एयर इंडेक्स 401 तक पहुंच गया था, बुधवार को गिर कर 358 पर आ गया।

एनसीआर का हाल भी मंगलवार के मुकाबले सुधर गया। बुधवार को सिर्फ गुरुग्राम का ही एयर इंडेक्स खतरनाक स्तर 416 पर रहा। भिवाड़ी में एयर इंडेक्स सामान्य स्तर पर 161 रहा। फरीदाबाद में 388, गाजियाबाद में 362, ग्रेटर नोएडा में 383, नोएडा में 347 रहा। यह सभी बेहद खराब श्रेणी में हैं।

सफर इंडिया के आंकलन के अनुसार गुरुवार को भी दिल्ली एनसीआर का हाल ऐसा ही रहने का अनुमान है। लेकिन तीन नवंबर से स्थिति फिर बदलने वाली है। इसकी वजह हिमालय क्षेत्र के सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ की वजह से हवा की गति में कमी आना और हवा में नमी का काफी अधिक बढ़ जाना है।

हालांकि दोपहर के समय ही हवा कम प्रदूषित रहेगी। सफर की ताजा जानकारी के अनुसार हरियाणा और पंजाब में पिछले तीन दिनों के दौरान काफी पराली जलाई गई है।

इसका असर मंगलवार को साफ नजर आया। वहीं ऊपरी स्तह पर हवा की गति माध्यम होने के कारण पराली से आने वाले प्रदूषक तत्वों का बुधवार को व्यापक असर नहीं दिखा।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020