अलीगढ़। दिल्ली से गुम हुआ बच्चा मंगलवार देर रात अलीगढ़ रेलवे स्टेशन पर जीआरपी को भटकते हुए मिला। चाइल्ड लाइन ने बच्चे को अपनी सुपुर्दगी में लेकर परिजनों से संपर्क किया। गुरुवार को बच्चे के परिजन अलीगढ़ पहुंचेंगे।

बालक के पिता की हो चुकी है मौत

अहम बात यह है कि नौ साल का यह बच्चा ठीक से बोल नहीं पाता है। काफी कोशिश के बाद नाम, पता मिला। बच्चे का नाम अनमोल पुत्र पप्पन निवासी रामलीला ग्राउंड मुकेश विहार शाहदरा (दिल्ली) है। परिवार मुकेश विहार में शेरा वाली माता के मंदिर के निकट किराए पर रहता है। पिता की सालभर पहले मृत्यु हो चुकी है। वह सब्जी बेचते थे। मां वीरवती शादी समारोह में बर्तन साफ करती है। इसके दो भाई हैं। सब्जीमंडी दरियागंज के चौकीदार कपिल के जरिए बच्चे की दादी को सूचित कर दिया है। चाइल्ड लाइन संस्था के निदेशक ज्ञानेंद्र मिश्रा ने बताया कि जीआरपी ने ये बच्चा संस्था के सुपुर्द किया था। बाल कल्याण समिति में बच्चे को पेश कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया जाएगा।

स्टेशन पर होगा चाइल्ड हेल्प लाइन का दफ्तर

रेलवे स्टेशन पर जल्द ही चाइल्ड हेल्प लाइन का दफ्तर स्थापित होगा। इसके लिए उच्चाधिकारियों को प्रस्ताव भेजा गया है। हफ्ते भर बाद टिकट विंडो के निकट दफ्तर खुलने की संभावना है। रेलवे अधिकारी इसके लिए एनजीओ से संपर्क कर रहे हैं। खास बात यह है कि परिजनों से नाराज होकर नादान बच्चे घर से भाग जाते हैं। घर से निकलने के बाद वे बाद में पछताते हैं। इस बच्चे के साथ भी ऐसा हुआ है।

Posted By: