नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय परिसर में स्थित स्वामी विवेकानंद की मूर्ति का अनावरण करने से पहले उसका अपमान करने का मामला सामने आया है। इंटरनेट पर वीडियो वायरल होने के बाद गुरुवार को मामले की जानकारी मिली थी। हालांकि, इस बारे में अभी तक विश्वविद्यालय प्रशासन ने कोई टिप्पणी नहीं की है। बताया जा रहा है कि जिस चबूतरे पर स्वामी विवेकानंद की मूर्ति स्थापित है, उस पर कुछ शरारती तत्वों ने अभ्रद टिप्पणियां लिखी थीं।

इस हरकत के जिम्मेदार लोगों की पहचान का खुलासा नहीं हो सका है। छात्र संघ ने भी घटना में शामिल होने की बात से इनकार करते हुए कहा है कि वह जल्द ही एक बयान जारी करेगा। मामले की जांच की जा रही है। बुधवार को छात्रों ने विश्वविद्यालय के प्रशासन ब्लॉक के अंदर उप-कुलपति के लिए विभिन्न टिप्पणियां लिखी थीं क्योंकि उन्हें हॉस्टल शुल्क वृद्धि के बारे में उनसे बात करने के लिए भवन में आने से रोक दिया गया था।

शाम तक फीस वृद्धि में आंशिक कमी कर दी गई थी। इसके साथ ही जेएनयू ने कहा कि ड्रॉफ्ट हॉस्टल मैनुअल में ड्रेस कोड और हॉस्टल में आने-जान की समय सीमा के उपबंध को भी हटा दिया गया था। बताते चलें कि छात्र संघ के नेतृत्व में सैकड़ों छात्रों ने वीसी से बात करने के लिए प्रशासन ब्लॉक के अंदर जाने की कोशिश की थी। मगर, वीसी या अन्य अधिकारियों से मिलने देने की इजाजत नहीं मिलने के बाद छात्रों ने उनके कार्यालय के पास की दीवारों पर संदेश लिखे थे। बीते करीब दो हफ्तों से छात्र बढ़ाई गई फीस को वापस लेने के लिए प्रदर्शन कर रहे थे।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Makar Sankranti
Makar Sankranti